शिक्षक दिवस पर शायरी (Shayari On Teachers Day In Hindi) | 05 September Teachers Day Shayari In Hindi

Photo of author
PP Team

शिक्षक दिवस पर शायरी (Shayari On Teachers Day In Hindi)- शिक्षक दिवस (Teachers Day) गुरु के प्रति सम्मान का दिन होता है। हमारे देश के पहले उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने 5 सितंबर (5 September) के दिन को टीचर्स डे के रूप में मनाने की शुरुआत की। इस दिन को उन्होंने शिक्षकों के सम्मान के लिए चुना। हम मुख्यतः अपने शिक्षकों का सम्मान उन्हें नमन करके और उनकी वंदना करके करते हैं, लेकिन अगर हम बात करें शायरों की, तो हमारे देश के शायरों ने शिक्षकों के सम्मान में शिक्षक दिवस पर शायरी हिंदी में (Teachers Day Shayari In Hindi) और Teachers Par Shayari तक लिख डाली।

शिक्षक दिवस पर शायरी (Shayari On Teachers Day In Hindi)

टीचर्स डे (Teachers Day) के खास मौके पर parikshapoint.com लेकर आया है मशहूर शायरों की Teacher Day Par Shayari और Teachers Ke Liye Shayari का बेस्ट कलेक्शन। टीचर्स डे पर आप भी अपने टीचर को टीचर डे शायरी हिंदी में (Teachers Day In Hindi Shayari) और Teachers Shayari In Hindi भेजकर शुभकामनाएं दे सकते हैं। नीचे हमने बेहतरीन Shikshak Diwas Par Shayari Hindi Mai और Shayari On Teachers In Hindi दे रखी है। आपको बता दें कि Shayari On Teacher In Hindi को जिन शायरों ने लिखा उनका नाम भी उनकी Teacher Ke Upar Shayari के साथ दिया गया गया। इन शायरों ने Shayari For Teachers In Hindi को लिखकर टीचर्स के सम्मान को और बढ़ाया है। Hindi Shayari For Teachers नीचे से पढ़ें।

05 सितंबर शिक्षक दिवस पर शायरी हिंदी में
(05 September Teachers Day Shayari In Hindi)

शिक्षक दिवस पर शायरी

जिसे देता हैं हर व्यक्ति सम्मान,
जो करता हैं वीरों का निर्माण,
जो बनाता हैं इंसान को इंसान,
ऐसे गुरु को हम करते हैं प्रणाम

माँ बाप और उस्ताद सब हैं ख़ुदा की रहमत
है रोक-टोक उन की हक़ में तुम्हारे ने’मत

ये भी पढ़ें

शिक्षक पर निबंधयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर निबंधयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर भाषणयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर कविताएंयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर शायरीयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर स्लोगन/नारेयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस पर कोट्सयहाँ से पढ़ें
शिक्षक दिवस की शुभकामनाएंयहाँ से पढ़ें

– अल्ताफ़ हुसैन हाली

अदब ता’लीम का जौहर है ज़ेवर है जवानी का
वही शागिर्द हैं जो ख़िदमत-ए-उस्ताद करते हैं

– चकबस्त ब्रिज नारायण

वही शागिर्द फिर हो जाते हैं उस्ताद ऐ ‘जौहर’
जो अपने जान-ओ-दिल से ख़िदमत-ए-उस्ताद करते हैं

– लाला माधव राम जौहर

शिक्षक सम्मान शायरी

शागिर्द हैं हम ‘मीर’ से उस्ताद के ‘रासिख़’
उस्तादों का उस्ताद है उस्ताद हमारा

– रासिख़ अज़ीमाबादी

देखा न कोहकन कोई फ़रहाद के बग़ैर
आता नहीं है फ़न कोई उस्ताद के बग़ैर

– अज्ञात

अब मुझे मानें न मानें ऐ ‘हफ़ीज़’
मानते हैं सब मिरे उस्ताद को

– हफ़ीज़ जालंधरी

टीचर्स के लिए दो लाइन शायरी

उस्ताद के एहसान का कर शुक्र ‘मुनीर’ आज
की अहल-ए-सुख़न ने तिरी तारीफ़ बड़ी बात

– मुनीर शिकोहाबादी

किस तरह ‘अमानत’ न रहूँ ग़म से मैं दिल-गीर
आँखों में फिरा करती है उस्ताद की सूरत

– अमानत लखनवी

टीचर्स डे पर बेहतरीन शायरियां

ये फ़न्न-ए-इश्क़ है आवे उसे तीनत में जिस की हो
तू ज़ाहिद पीर-ए-नाबालिग़ है बे-तह तुझ को क्या आवे

– मीर तक़ी मीर

महरूम हूँ मैं ख़िदमत-ए-उस्ताद से ‘मुनीर’
कलकत्ता मुझ को गोर से भी तंग हो गया

– मुनीर शिकोहाबादी

जल जाता है वो दिए की तरह, कई जीवन रोशन कर जाता है
कुछ इसी तरह से हर गुरु, अपना फर्ज निभाता है

– अज्ञात

साभार- रेख़्ता

parikshapoint.com की तरफ से सभी शिक्षकों को “शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं” (Happy Teachers Day)।

अन्य विषयों पर शायरी पढ़ने के लिएयहाँ क्लिक करें

Leave a Reply