Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

क्रिकेट पर निबंध (Cricket Essay in Hindi)

Photo of author
Ekta Ranga
Last Updated on

जब मैं और मेरे भाई बहन छोटे थे तब हम बड़े ही उत्साह के साथ खूब सारे खेल खेलते थे। खेलों को लेकर दिलचस्पी शुरूआत से ही थी। कभी लुकाछिपी का खेल खेलते तो कभी टेनिस खेल लिया करते थे। परंतु एक खेल ऐसा था जो सभी का ही बहुत प्रिय खेल था। आप सभी यह समझ गए होंगे कि हम यहां पर क्रिकेट की बात कर रहे हैं। क्रिकेट (Cricket) का खेल हम सभी को बचपन से ही बहुत अच्छा लगता था। इस खेल को छोटे से लेकर बड़े को खेलने में बहुत आनंद आता है।

दुनिया में अलग अलग प्रकार के खेल मौजूद हैं। हर खेल का अपना अलग इतिहास और महत्व है। खेल के बिना हमारा जीवन अधूरा सा लगता है। खेल हमें सद्भावना के साथ रहना सिखाते हैं। ऐसे तो हम सभी अलग-अलग प्रकार के खेल खेलते हैं। परंतु भारत देश में जिस खेल को भगवान की तरह पूजा जाता है वह क्रिकेट है। क्रिकेट सदियों से चला आ रहा एक लोकप्रिय खेल है।

क्रिकेट को बच्चे और बड़े खूब चाव के साथ खेलते हैं। क्रिकेट का नाम सुनते ही शरीर में उमंग की लहर दौड़ जाती है। बच्चों को तो क्रिकेट बहुत ही ज्यादा पसंद होता है। लोग इसे खेले बिना रह नहीं सकते हैं। हम क्रिकेट के प्रति दीवानगी का पता इस प्रकार लगा सकते हैं कि जिस समय कोई मैच आता है तो बच्चों की आंखें टीवी पर ही चिपक जाती है। बच्चे अपनी फेवरेट टीम का समर्थन किए बिना रह ही नहीं सकते हैं।

प्रस्तावना

जीवन खेलों का नाम है। आज दुनिया में इतने खेल हैं कि आप जितने भी खेलोगे उतने ही यह कम पड़ जाएंगे। खेल भी कई प्रकार के होते हैं जैसे कि फुटबॉल, टेनिस, वॉलीबाल, क्रिकेट आदि। दुनिया में सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल को ही माना जाता है।

परंतु क्या आपको पता है कि क्रिकेट भी दुनिया के लोकप्रिय खेलों में से एक है? जी हां, क्रिकेट भी उतना ही लोकप्रिय खेल है जितना फुटबॉल और टेनिस है। यूं देखे तो हाॅकी को भारत का सबसे पुराना खेल माना जाता है। यह सबसे प्राचीन खेलों में से एक है। परंतु जब से अंग्रेजों ने भारत पर राज करना शुरू किया तब से भारत की दिलचस्पी क्रिकेट खेल में बढ़ गई। क्रिकेट बहुत ही शानदार खेल है।

इस खेल में एक बल्ला होता है, बाॅल होती है और विकेट्स होते हैं। इस खेल को खेलने के लिए दो टीमें आमने सामने होती है। बच्चों से लेकर बड़े भी इस खेल को दीवानों की तरह खेलते हैं। बच्चों में तो क्रिकेट को लेकर बड़ा ही उत्साह देखने को मिलता है। छोटे-छोटे बच्चे इस खेल के बारे में पूरी जानकारी इक्कठी करते रहते हैं।

क्रिकेट का महत्व क्या है?

मेरी एक चाचा की लड़की काफी सालों बाद जर्मनी से पढ़कर छुट्टियों में भारत भ्रमण के लिए आई। वह बहुत छोटी थी जब वह जर्मनी गई थी। जिस समय वह आई थी उस समय भारत में 2011 क्रिकेट विश्व कप का आयोजन चल रहा था। उसे यहां का माहौल देखकर अजीब सा लगा। वह लोगों को फुटबॉल के बारे में बताने लगी।

उसने लोगों को यह भी बताया कि लियोनेल मेसी और रोनाल्डो कैसे फुटबॉल खेलते हैं। पर लोगों को उसकी बात में कोई दिलचस्पी नहीं आ रही थी। लोग तो क्रिकेट के जश्न में डूबे हुए थे। उसने मुझसे कहा कि क्रिकेट किस तरह का खेल है। वह हर जगह पर धोनी और सचिन का नाम सुन रही थी। मैंने उसे समझाया कि जैसे विदेशों में फुटबॉल को लेकर दीवानगी और उत्साह रहता है ठीक उसी प्रकार भारत में क्रिकेट को लेकर रहता है।

अगर हकीकत में देखा जाए तो हमें यह पता चलता है कि भारत में क्रिकेट को पूजा जाता है। लोगों की आत्मा बसती है इस खेल में। वह सभी खिलाडियों को देवता के समान मानते हैं। भारत की जनता अपना पूरा प्यार लुटाती है क्रिकेट के शानदार खेल पर। जब हम क्रिकेट खेलते हैं या क्रिकेट मैच देखते है तो हमें और भी अधिक जोश आ जाता है।

आज का दौर सिर्फ सरकारी नौकरी तक ही सीमित नहीं रह गया है बल्कि आज कमाई के कई साधन हो चले हैं। इनमें से एक है खेलों के जरिए कमाई का। आज लोग क्रिकेट जैसे खेल से भी खूब पैसा कमा रहे हैं। सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे दिग्गज आज युवाओं के लिए प्रेरणा है। यही वजह है कि इस देश के सभी मां-बाप अपने बच्चों को एक सफल क्रिकेटर के रूप में देखना चाहते हैं।

क्रिकेट शब्द कहां से आया है?

अंग्रेजों को ही क्रिकेट को पूरे भारत में प्रसिद्ध करने का श्रेय जाता है। साफ शब्दों में कहे तो इंग्लैंड को क्रिकेट का जनक माना जाता है। पर क्या आप यह जानते हैं कि आखिर क्रिकेट शब्द कहां से आया? तो चलिए आपको हम बताते हैं। दरअसल इस खेल की कहानी 1550 से ही शुरू हो गई थी। इससे पहले इस खेल का कोई अस्तित्व नहीं था। कहते हैं कि 1550 में गिलफोर्ड में लोगों के कुछ समूह ने लकड़ी के एक पटरे और गेंद से इस खेल का आगाज किया था।

शुरुआती दौर में लोगों को यह खेल समझ में नहीं आया। फिर बाद में लोग इसे समझने लगे। 1598 तक तो क्रिकेट क्रेक्केट (Creckett) नाम से लोगों के बीच प्रसिद्ध था। इसके बाद क्रिकेट शब्द को पहली बार 1755 में डिक्शनरी में जोड़ा गया था। सभी लोगों का मत क्रिकेट को लेकर अलग अलग है। कोई लोग मानते हैं कि क्रिकेट 16वीं शताब्दी में अस्तित्व में आया तो कोई मानता है कि यह 17वीं शताब्दी में अस्तित्व में आया।

भारत का नंबर वन क्रिकेटर कौन है?

एक समय था सचिन तेंदुलकर का हर जगह जलवा था। लोग सचिन को भगवान की तरह पूजते थे। हर मैच में लोगों को केवल सचिन से बड़ी उम्मीदे बंधी रहती थी। लेकिन धीरे-धीरे धोनी और विराट कोहली जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी आ गए। आज के समय में अगर कोई क्रिकेटर नंबर वन है तो वह है विराट कोहली। विराट कोहली अपने शानदार क्रिकेट खेल के लिए विख्यात है।

अभी काफी सालों से विराट कोहली ने भारतीय टीम की कप्तानी संभाली हुई थी। अब वह टीम के कप्तान नहीं है परंतु उनका खेल आज भी वैसे ही बरकरार है। उनका जन्म 5 नवंबर 1988 को दिल्ली में हुआ था। उनके पिता का नाम प्रेम कोहली है और माता का नाम सरोज कोहली है। उनकी कप्तानी में भारत ने कई शानदार उपलब्धियों को हासिल किया। सबसे बड़ी उपलब्धि तब हासिल की जब भारत ने कोहली की कप्तानी में अंडर-19 विश्व कप हासिल किया।

क्रिकेट खेल के नियम

जैसे खेलों के कई प्रकार होते हैं ठीक वैसे ही खेल के नियम भी होते है। क्रिकेट खेल को भी नियमों के साथ खेला जाता है। इसके नियम कुछ इस प्रकार है –

  • इस खेल को खेलने के लिए दो टीमों की आमने सामने भिडंत होती है।
  • क्रिकेट टीम में 11 खिलाडियों पर इस खेल की जिम्मेदारी होती है।
  • इस खेल की जिम्मेदारी दो अंपायरों पर होती है।
  • एक तीसरा अंपायर भी होता है जो टीवी स्क्रीन पर ही इस खेल और सभी खिलाडियों का निरीक्षण करता है।
  • इस खेल को दो पारी में खेला जाता है। एक पारी में पहली टीम बल्लेबाजी करती है और दूसरी टीम गेंदबाजी का जिम्मा लेती है। और दूसरी पारी में पहली टीम गेंदबाजी करती है तो दूसरी टीम अब बल्लेबाजी करती है।
  • टीम हमेशा यही चाहती है कि वह अपनी विरोधी टीम के लिए ज्यादा से ज्यादा रन बनाए। ताकि विरोधी टीम अपने लक्ष्य को पूरा ना कर पाए।
  • जो टीम गेंदबाजी करवाती है उनका लक्ष्य यही रहता है कि वह अपनी विरोधी टीम को कम रन पर आउट कर दे।
  • बल्लेबाजी और गेंदबाजी का निर्णय खेल के आरंभ में टॉस जीतने वाली टीम के द्वारा होती है।

क्रिकेट का पिता किसको माना जाता है?

क्रिकेट पुराने समय से खेले जाने वाले खेलों में से एक रहा है। क्रिकेट का शौक हर किसी को होता है। पूरी दुनिया में क्रिकेट बड़े ही शौक के साथ खेला जाता है। पर क्या आपको पता है कि क्रिकेट खेल का जनक किसको माना जाता है? क्रिकेट खेल को अस्तित्व में लाने का श्रेय विलियम गिलबर्ट ग्रेस को जाता है।

विलियम गिलबर्ट ग्रेस का जन्म 18 जुलाई 1848 में इंग्लैंड शहर में हुआ था। वह एक बेहतरीन बल्लेबाज के रूप में जाने जाते थे। वह आलराउंडर थे। भारत में इस खेल को अस्तित्व में लाने का श्रेय महाराज रणजीतसिंहजी को जाता है। इनका जन्म 10 सितंबर 1872 को हुआ था। उन्होंने भारत में क्रिकेट को मशहूर कर दिया।

क्रिकेट पर निबंध 100 शब्दों में

क्रिकेट को दुनिया का सबसे बेहतरीन खेल माना जाता है। हम बचपन से ही इस शानदार खेल से वाकिफ हैं। इस खेल में दो टीमें एक दूसरे के आमने-सामने होती है। इस खेल बल्ला, गेंद, विकेट, गलव्स का उपयोग होता है। क्रिकेट मैच एक दिवसीय होता है और इसे टेस्ट मैच के रूप में भी खेला जाता है। हमारे देश में लोग क्रिकेट की पूजा करते हैं। जितनी चाव से एक छोटा बच्चा क्रिकेट को खेलता है उतने ही उत्साह के साथ बड़े लोग भी इस खेल को लेकर जोश में रहते हैं। देश का हर बच्चा आज क्रिकेटर बनने की चाहत रखता है।

क्रिकेट पर निबंध 250 शब्दों में

सभी प्रकार के खेल हमेशा से ही लोगों के बीच प्रसिद्ध रहे हैं। ऐसे देखा जाए तो इस दुनिया में अनेकों प्रकार के खेल मौजूद है। सभी तरह के स्पोर्ट्स की अलग अलग खूबियां है। कोई फुटबॉल पसंद करता है तो कोई टेनिस। किसी का फेवरेट खिलाड़ी मेसी है तो कोई राफेल नडाल को अपना आदर्श मानता है।

मतलब सभी तरह के खेलों का अपना अलग ही मजा है। वैसे हमारे भारत में भी अनेक प्रकार के खेल खेले जाते हैं। हमारे प्राचीन खेलों में से एक है – सांप-सीढ़ी, शतरंज, गंजिफा (ताश), रथ दौड़, बैलगाड़ियों की दौड़, नौका की दौड़, धनुर्विद्या, तलवारबाजी, घुड़सवारी, मल्ल-युद्ध, कुश्ती, तैराकी, भाला फेंक आदि।

लेकिन एक खेल समय के साथ इतना ज्यादा प्रसिद्ध हुआ कि फिर इस खेल के आगे आज के समय में सब खेल फीके पड़ते हैं। इस शानदार खेल का नाम है क्रिकेट। क्रिकेट भारत का सबसे प्रमुख और प्रसिद्ध खेल में से एक माना जाता है। इस खेल को लेकर लोगों में इतना क्रेज रहता है कि आज सभी लोग सचिन या कोहली ही बनना चाहते हैं।

बच्चे इन सभी क्रिकेटर्स को अपना आदर्श मानते हैं। इस खेल को खेलने में बड़ा ही मजा आता है। इसमें बल्लेबाज और गेंदबाज होते हैं। इस खेल में बेट और बाॅल होती है। इसमें एक विकेटकीपर भी होता है। इस खेल को खेलने के नियम भी होते हैं। दूसरे खेलों की ही तरह यह खेल भी दुनियाभर के देशों में खेला जाता है।

क्रिकेट पर 10 लाइनें

  1. क्रिकेट भारत का सबसे लोकप्रिय खेल है।
  2. क्रिकेट इंग्लैंड का राष्ट्रीय खेल माना जाता है।
  3. क्रिकेट खेल 16वीं शताब्दी से खेला जा रहा एक शानदार खेल है।
  4. इंग्लैंड को क्रिकेट का जनक माना जाता है।
  5. क्रिकेट खेल को तीन फॉर्मेट में खेला जाता है।
  6. यह तीन फॉर्मेट होते हैं टी-20, टेस्ट मैच और वनडे क्रिकेट मैच।
  7. इस खेल में दो टीमें आमने-सामने होकर खेलती है।
  8. हर टीम में ग्यारह खिलाड़ी होते हैं।
  9. इस खेल में अंपायर भी अहम भूमिका निभाते हैं।
  10. यह खेल पूरी दुनियाभर में खेला जाता है

निष्कर्ष

आज के हमारे इस पोस्ट के जरिए हम सभी ने क्रिकेट खेल के इतिहास को अच्छे से जाना। हमने इस खेल के प्रारूप को भी समझा। और इसी विषय पर प्रश्न उत्तर भी जाने। हमने इस निबंध को बड़ी ही आसान भाषा में लिखा है। हम यही चाहते हैं कि सभी विद्यार्थियों को हमारे द्वारा तैयार किए गए निबंध को समझने में कोई तरह की परेशानी ना हो। हम यह आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा तैयार किया गया यह निबंध बेहद पसंद आया होगा।

ये भी पढ़ें
खेल का महत्व पर निबंध खेल पर निबंध
योग पर निबंध जी20 पर निबंध

क्रिकेट का पुराना नाम क्या है?

क्रिकेट का पुराना नाम क्रेक्केट (Creckett) था। शुरूआती दौर में क्रिकेट को इसी नाम से पुकारा जाता था।

दुनिया के सबसे छोटे क्रिकेटर का नाम क्या है?

न्यूजीलैंड के क्रूगर वैन विक को दुनिया के सबसे छोटे खिलाड़ी के रूप में जाना जाता है।

Leave a Reply