एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 विज्ञान पाठ 12 विद्युत तथा परिपथ

Photo of author
PP Team
(कक्षा 6 विज्ञान पाठ 12 के प्रश्न उत्तर)

अभ्यास

प्रश्न 1 – रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए :

(क) एक युक्ति जो परिपथ को तोड़ने के लिए उपयोग की जाती है, …….. कहलाती है।

(ख) एक विद्युत्-सेल में …….. टर्मिनल होते हैं।

उत्तर :- (क)  एक युक्ति जो परिपथ को तोड़ने के लिए उपयोग की जाती है, स्विच कहलाती है।

(ख) एक विद्युत्-सेल में दो टर्मिनल होते हैं।

प्रश्न 2 – निम्नलिखित कथनों पर ‘सही’ या ‘गलत’ का चिह्न लगाइए।

(क) विद्युत् धारा वस्तुओं से होकर प्रवाहित हो सकती है।

(ख) विद्युत् परिपथ बनाने के लिए धातु के तारों के स्थान पर जूट की डोरी प्रयुक्त की जा सकती है।

(ग) विद्युत्-धारा थर्मोकोल की शीट से होकर प्रवाहित हो सकती है।

उत्तर :- (क) विद्युत् धारा वस्तुओं से होकर प्रवाहित हो सकती है। (सही)

(ख) विद्युत् परिपथ बनाने के लिए धातु के तारों के स्थान पर जूट की डोरी प्रयुक्त की जा सकती है। (गलत)

(ग) विद्युत्-धारा थर्मोकोल की शीट से होकर प्रवाहित हो सकती है। (गलत)

प्रश्न 3 – व्याख्या, कीजिए कि चित्र में दर्शाई गई व्यवस्था में बल्ब क्यों नहीं। दीप्तमान होता है ?

51231636596 e5de33b0a9 m

उत्तर :- क्योंकि, स्क्रू ड्राइवर प्लास्टिक से बना होता है, तार का एक सिरा विद्युत् सेल से सीधा बल्ब से, जुड़ा है और दूसरा सिरा एक रोधक से जुड़ा है।  इसलिए, बल्ब को रोशनी नहीं मिलती।

प्रश्न 4 – चित्र में दर्शाए गए आरेख ‘को पूरा कीजिए और बताइए कि बल्ब को दीप्तमान करने के लिए तारों को स्वतंत्र सिरों को किस प्रकार जोड़ना चाहिए ?

51231849798 d93f19a1b5 m

उत्तर :- बल्ब को प्रकाश में लाने के लिए तार के मुक्त सिरे को बल्ब से जोड़ना पड़ता है ताकि विद्युत परिपथ पूर्ण हो जाए, इसके माध्यम से विद्युत प्रवाह और बल्ब प्रकाश देते हैं।

प्रश्न 5 – विद्युत्-स्विच को उपयोग करने का क्या प्रयोजन है ? कुछ विद्युत्साधित्रों के नाम बताइए जिनमें स्विच उनके अंदर ही निर्मित होते हैं ?

51230939792 60b90b9812 m

उत्तर :- विद्युत् स्विच का उपयोग विद्युत् उपकरण को चालू या बंद करने के लिए किया जाता है। जब हम स्विच ऑन करते हैं।  सर्किट में करंट प्रवाहित होने लगता है और हम स्विच ऑफ कर देते हैं, इससे बहने वाला विद्युत प्रवाह बंद हो जाता है। टीवी और टेबल लैंप आदि में विद्युत् स्विच निर्मित होता है।

प्रश्न -6. चित्र 12.14  में सुरक्षा पिन की जगह यदि रबड़ लगादे तो क्या बल्ब दीप्तिमान होगा।

उत्तर :- यदि हम सुरक्षा पिन के बजाय रबड़ का उपयोग करते हैं, तो, बल्ब प्रकाश नहीं करेगा क्योंकि, सुरक्षा पिन धातु का बना होता है जो बिजली का अच्छा संवाहक होता है जबकि रबड़ एक इन्सुलेटर होता है।  यदि हम रबड़ के माध्यम से विद्युत प्रवाह को पास करने की कोशिश करते हैं तो विद्युत बल्ब प्रकाश को नष्ट करेगा।

प्रश्न 7 – क्या चित्र 12.15 में दिखाए गए परिपथ में बल्ब दीप्तिमान होगा ?

उत्तर :- आकृति में दिखाया गया विद्युत सर्किट पूर्ण है, एकमात्र यह है कि सर्किट में कोई स्विच कनेक्ट नहीं किया गया है।  बल्ब सीधे और स्विच के माध्यम से जुड़ा हुआ है।  जब विद्युत प्रवाह इसके माध्यम से पारित किया जाएगा, तो बल्ब हल्का हो जाता है।

प्रश्न 8 – किसी वस्तु के साथ “चालक-परीक्षित्र” का उपयोग करके यह देखा गया कि बल्ब दीप्तमान होता है। क्या इस वस्तु का पदार्थ विद्युत्-चालक है या विद्युत् रोधक ? व्याख्या कीजिए।

उत्तर :-  वस्तु की सामग्री विद्युत की सुचालक होती है, इसीलिए करंट प्रवाहित होता है।  यदि वस्तु की सामग्री बिजली की गैर-संवाहक होती, तो, विद्युत् के माध्यम से पारित नहीं किया जा सकता था और बल्ब कभी भी प्रकाश में नहीं आ सकता था। वस्तु का पदार्थ विद्युत् चालक है क्योंकि विद्युतधारा केवल चालकों में से से ही प्रवाहित हो सकती है और रोधकों में से नहीं प्रवाहित हो सकती है।

प्रश्न 9 – आपके घर में स्विच की मुरम्मत करते समय विद्युत् मिस्तरी रबड़ के दस्ताने क्यों पहनता है ? व्याख्या कीजिए।

उत्तर :- रबड़ के दस्ताने विद्युत इन्सुलेटर हैं, यह इसलिए है क्योंकि विद्युत प्रवाह सर्किट के साथ हमारे खराब संपर्क में प्रवेश करने में विफल रहता है। दस्ताने पहने बिना मरम्मत करते समय यदि हमारा हाथ वर्तमान ले जाने वाले तार के संपर्क में होता है, तो इससे बिजली का झटका लग सकता है।  इसलिए, विद्युत् शोक को रोकने के लिए विद्युत् मिस्त्री रबड़ के दस्ताने का प्रयोग करता है।

प्रश्न 10 – विद्युत् मिस्त्री द्वारा उपयोग किए जाने वाले औजार जैसे-पेचकर और प्लायर्स के हत्थों पर प्रायः प्लास्टिक या रबड़ के आवरण चढ़े होते हैं। क्या आप इसका कारण समझा सकते हैं ?

उत्तर :- स्क्रू ड्राइवर जैसे उपकरण धातुओं से बने होते हैं जो कि विद्युत के अच्छे संवाहक होते हैं।  यदि इनका उपयोग सीधे रूप में किया जाता है, तो, यह बिजली के झटके का कारण बन सकता है।  शरीर को बिजली के झटके से बचाने के लिए इन उपकरणों को संभालने के लिए प्लास्टिक या रबड़ कवर का इस्तेमाल किया जाता है। प्लास्टिक और रबड़ इलेक्ट्रिक इंसुलेटर हैं।  ये विद्युत प्रवाह को शरीर में प्रवेश करने से रोकते हैं, यह हमें बिजली के झटके से बचाता है।

कक्षा 6 विज्ञान के सभी पाठ नीचे से प्राप्त करें

कक्षा 6 विज्ञान के पाठविषय
पाठ-1भोजन : यह कहाँ से आता है ?
पाठ-2भोजन के घटक
पाठ-3तंतु से वस्त्र तक
पाठ-4वस्तुओं के समूह बनाना
पाठ-5पदार्थों का पृथक्करण
पाठ-6हमारे चारों ओर के परिवर्तन
पाठ-7पौधों को जानिए
पाठ-8शरीर में गति
पाठ-9सजीव – विशेषताएँ एवं आवास
पाठ-10गति एवं दूरियों का मापन
पाठ-11प्रकाश – छायाएँ एवं परावर्तन
पाठ-12विद्युत तथा परिपथ
पाठ-13चुंबकों द्वारा मनोरंजन
पाठ-14जल
पाठ-15हमारे चारों ओर वायु
पाठ-16कचरा – संग्रहण एवं निपटान
इस आर्टिकल के मुख्य पेज के लिएयहां क्लिक करें

Leave a Reply