Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

डीएलएड एडमिशन 2024 (D.El.Ed. Admission 2024): डीएलएड कैसे करें, योग्यता, कोर्स, फीस

Photo of author
PP Team
Last Updated on

डीएलएड एडमिशन 2024 (D.El.Ed Admission 2024)- अगर आपकी रुचि टीचिंग लाइन में है और भविष्य में आप डीएलएड कोर्स करके टीचर बनना चाहते हैं, तो ये आर्टिकल आपके लिए है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको डीएलएड कोर्स की पूरी जानकारी देंगे। हम आपको बताएंगे कि डीएलएड क्या है, डीएलएड की फुल फॉर्म क्या है, डीएलएड कैसे करें, डीएलएड में एडमिशन कैसे लें, डीएलएड की फीस कितनी है, डीएलएड के लिए योग्यता कितनी होनी चाहिए आदि। इन सभी जानकारी के बाद आप समझ पाएंगे कि टीचर बनने में इस कोर्स का कितना महत्व है।

डीएलएड एडमिशन (D.El.Ed. Admission)

डीएलएड एक ऐसा कोर्स है जिसे करने के बाद आप अपना टीचर बनने का सपना पूरा कर सकते हैं और किसी सरकारी या प्राइवेट स्कूल में शिक्षक बनकर पढ़ा सकते हैं। बीएड कोर्स की तरह डीएलएड कोर्स भी काफी लोकप्रिय है, जो आपको टीचर बनने का अवसर प्रदान करता है। डीएलएड कोर्स में एडमिशन लेने से पहले आपको इस कोर्स से जुड़ी पूरी जानकारी पता होनी चाहिए, साथ ही आपको ये भी ध्यान में रखना चाहिए कि आप किस कॉलेज या यूनिवर्सिटी से डीएलएड कोर्स करना चाहते हैं। सबसे पहले हम जानते हैं डीएलएड क्या है?

डीएलएड क्या है?

डीएलएड कोर्स एक डिप्लोमा कोर्स है। यह कोर्स टीचर बनने के लिए किया जाता है। अगर आप भी टीचर बनना चाहते हैं, तो इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। डीएलएड कोर्स प्राथमिक स्तर पर टीचर बनने का कोर्स होता है। यह कोर्स दो साल का होता है। आसान भाषा में इसे समझें तो डीएलएड दो साल का डिप्लोमा कोर्स है, जिसे पूरा करने के बाद आप टीचर बनने के योग्य हो जाते हैं। डीएलएड कोर्स करने के बाद अगर आप टीईटी (TET) या सीटीईटी (CTET) एग्जाम पास करते हैं, तो आप किसी भी सरकारी और प्राइवेट स्कूल में प्राइमरी टीचर की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

ये आर्टिकल भी पढ़ें

बीएड (B.Ed.) की पूरी जानकारीयहाँ से पढ़ें
सीटीईटी (CTET) के बारे मेंयहाँ से पढ़ें
टीईटी (TET) परीक्षा के बारे मेंयहाँ से पढ़ें
टीचर बनने की तैयारी कैसे करें?यहाँ से पढ़ें

डीएलएड फुल फॉर्म

डीएलएड की फुल फॉर्म- “डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन” (Diploma In Elementary Education)

डीएलएड के लिए योग्यता

डीएलएड कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको निम्नलिखित योग्यता मापदंडों को पूरा करना ज़रूरी है-

  • शैक्षिक योग्यता
    • उम्मीदवार को साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास होना ज़रूरी है।
    • 12वीं में 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए।
  • आयु सीमा
    • उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
    • उम्मीदवार की अधिकतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए।

डीएलएड कैसे करें?

अगर आप डीएलएड कोर्स करके टीचिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपको इस कोर्स को करने के लिए सबसे पहले ऊपर बताई गई योग्यता को पूरा करना होगा। आपको बता दें कि डीएलएड कोर्स में एडमिशन एंट्रेंस एग्जाम और मेरिट लिस्ट दो तरीकों से होता है। हमारे देश के अधिकतर सभी राज्यों के सरकारी कॉलेजों से डीएलएड करने के लिए एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है और वहीं प्राइवेट कॉलेजों में डीएलएड कोर्स में एडमिशन 12वीं के अंकों और मेरिट के आधार पर होता है।

डीएलएड कोर्स में एडमिशन की चयन प्रक्रिया राज्यों और उनके कॉलेजों पर निर्भर करती है। डीएलएड कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले आवेदन करना होगा और प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा। प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद मेरिट के आधार पर आपको एडमिशन दिया जाएगा। कई ऐसे प्राइवेट कॉलेज भी हैं, जहाँ से बारहवीं के नंबर के आधार पर आप एडमिशन लेकर डीएलएड कर सकते हैं। अब हम जानते हैं डीएलएड की फीस के बारे में।

डीएलएड की फीस

डीएलएड की फीस राज्य और उसके कॉलेज पर निर्भर करती है। सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज दोनों में फीस अलग-अलग होती है। सरकारी कॉलेज के मुकाबले प्राइवेट कॉलेज में डीएलएड कोर्स की फीस ज़्यादा होती है। अगर आप डीएलएड कोर्स किसी सरकारी कॉलेज से करते हैं, तो आपको प्रतिवर्ष दस से बीस हजार रुपये तक फीस देनी होगी और अगर आप इसी कोर्स को किसी प्राइवेट कॉलेज से करते हैं, तो आपको प्रतिवर्ष चालीस से पचास हजार रुपये तक फीस देनी होगी। किसी-किसी कॉलेज में डीएलएड की फीस प्रति सेमेस्टर भी होती है।

कॉलेजफीस
सरकारी कॉलेज10 से 20 हजार रुपये तक
प्राइवेट कॉलेज40 से 50 हजार रुपये तक

डीएलएड कोर्स अवधि

डीएलएड कोर्स को पूरा होने में कुल दो साल का समय लगता है। इन दो सालों को चार सेमेस्टर में बांट दिया जाता है और टीचिंग से जुड़े विषयों को पढ़ाया और समझाया जाता है। इस दौरान आपको टीचर बनने की पूरी ट्रेनिंग दी जाती है। डीएलएड कोर्स मुख्य रूप से प्राइमरी स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए करवाया जाता, क्योंकि छोटे बच्चों को पढ़ाना बहुत मुश्किल काम होता है। इसीलिए प्राइमरी स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए डीएलएड किया जाता है। डीएलएड कोर्स पूरा होने के बाद आप प्राइमरी टीचर की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

कोर्स कुल समय
डीएलएडदो वर्ष (चार सेमेस्टर)

डीएलएड सिलेबस

जैसा कि हमने आपको बताया कि डीएलएड कोर्स दो साल का होता है और इन दो सालों में आपको प्राइमरी स्कूल के बच्चों को पढ़ाने की पूरी ट्रेनिंग दी जाती है। ट्रेनिंग के साथ-साथ आपको थ्योरी क्लासेज़ भी दी जाती हैं। डीएलएड कोर्स के दौरान डीएलएड कोर्स सिलेबस में निम्नलिखित विषय शामिल होते हैं, जैसे-

  1. बाल विकास एवं सीखने की प्रक्रिया
  2. भारतीय समाज और प्रारंभिक शिक्षा
  3. प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास
  4. शिक्षण अधिगम के सिद्धांत
  5. शैक्षिक मूल्यांकन क्रियात्मक शोध एवं नवाचार
  6. समावेशी शिक्षा
  7. आरंभिक स्तर पर भाषा के पठन लेखन एवं गणितीय क्षमता का विकास
  8. शैक्षिक प्रबंधन एवं प्रशासन
  9. शांति शिक्षा एवं सतत विकास
  10. स्कूल स्वास्थ्य और शिक्षा
  11. सामाजिक अध्ययन
  12. संस्कृत
  13. हिंदी
  14. गणित
  15. विज्ञान
  16. कंप्यूटर
  17. कला
  18. संगीत
  19. शारीरिक शिक्षा
  20. इंटर्नशिप

नोट- डीएलएड सिलेबस कॉलेज के हिसाब से अलग भी हो सकता है।

डीएलएड कॉलेज

कॉलेज का नामस्थान
इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटीनई दिल्ली
जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटीनई दिल्ली
चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटीमेरठ, यूपी
छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटीकानपुर, यूपी
डॉ. भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी एटा, यूपी
लखनऊ यूनिवर्सिटी लखनऊ, यूपी
बरकतुल्लाह यूनिवर्सिटीभोपाल, एमपी
देवी अहिल्या यूनिवर्सिटीइंदौर, एमपी
बुंदेलखंड यूनिवर्सिटीझांसी, एमपी
कोटा यूनिवर्सिटी राजस्थान
महर्षि दयानंद सरस्वती यूनिवर्सिटीअजमेर, राजस्थान
राजस्थान यूनिवर्सिटीजयुपर, राजस्थान

सभी राज्यों के डीएलएड एडमिशन

राज्यडीएलएड एडमिशन
दिल्लीदिल्ली डाइट एडमिशन
उत्तर प्रदेश यूपी डीएलएड एडमिशन
हरियाणा हरियाणा डीएलएड एडमिशन
बिहार बिहार डीएलएड एडमिशन
मध्य प्रदेशएमपी डीएलएड एडमिशन
हिमाचल प्रदेशएचपी डीएलएड एडमिशन
राजस्थानराजस्थान बीएसटीसी
छत्तीसगढ़ छत्तीसगढ़ डीएलएड एडमिशन
उत्तराखंडउत्तराखंड डीएलएड एडमिशन

FAQs

प्रश्न- डीएलएड करने के बाद कौन सी नौकरी मिलती है?

उत्तरः डीएलएड करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट स्कूल टीचर की नौकरी कर सकते हैं।

प्रश्न- डीएलएड में कौन-कौन से विषय होते हैं?

उत्तरः डीएलएड में हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान आदि कई विषय होते हैं।

प्रश्न- डीएलएड करने से क्या फायदा है?

उत्तरः डीएलएड करने से आप प्राइमरी टीचर बन सकते हैं।

प्रश्न- डीएलएड कितने साल का होता है?

उत्तरः डीएलएड की अवथि कुल दो साल की होती है।

प्रश्न- बीएड और डीएलएड में क्या अंतर है?

उत्तरः बीएड दो साल का प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है और डीएलएड दो साल का डिप्लोमा कोर्स है। लेकिन दोनों कोर्स टीचर बनने की ट्रेनिंग के लिए ही करवाये जाते हैं।

प्रश्न- डीएलएड में एडमिशन कैसे लें?

उत्तरः डीएलएड में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आवेदन करना होगा। उसके बाद प्रवेश परीक्षा होगी और मेरिट लिस्ट निकाली जाएगी।

प्रश्न- डीएलएड के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

उत्तरः डीएलएड के लिए आपकी न्यूनतम योग्यता 12वीं पास होनी चाहिए।

प्रश्न- डीएलएड कौन-सा कोर्स होता है?

उत्तरः डीएलएड यानी कि डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन कोर्स होता है। ये दो साल का टीचिंग में डिप्लोमा कोर्स होता है, जिसमें 4 सेमेस्टर शामिल होते हैं।

अन्य कोर्स में एडमिशन के लिएयहाँ क्लिक करें

Leave a Reply