टीचर कैसे बने? | Teacher Banne Ke Liye ऐसे करें तैयारी

Photo of author
PP Team

टीचर बनने की तैयारी कैसे करें? (Teacher Banne Ke Liye Kya kare)- आज के समय में बहुत से स्टूडेंट्स ऐसे हैं जिनका सपना एक शिक्षक (Teacher) बननें का है। वह अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद अपना करियर टीचिंग लाइन (Teaching Line) में बनना चाहते हैं। हमारे देश में गुरूओं का बहुत सम्मान किया जाता है और सरकारी टीचर्स का तो दर्जा ही कुछ अलग होता है। हमारे माता-पिता के बाद हमारे अध्यापक ही जो हमें ज्ञान और शिक्षा बांटते हैं। टीचर जॉब (Teacher Job) एक बहुत ही अच्छी जॉब होती है।

Teacher Banne Ke Liye Kya kare

आप एक ट्यूशन टीचर (Tution Teacher), स्कूल टीचर (School Teacher), प्राइवेट टीचर (Private Teacher), सरकारी टीचर (Government Teacher) आदि बनकर अच्छा भविष्य बना सकते हैं। अगर आप भी टीचर बनना चाहते हैं और शिक्षक बनकर ज्ञान बांटना चाहते हैं तो हमारे इस पेज को पूरा पढ़ें। इस पेज से आप सरकारी टीचर कैसे बनें, टीचर बनने की तैयारी कैसे करें, Government Teacher Kaise Bane, Teacher Kaise Bane, प्राइमरी टीचर कैसे बने, केंद्रीय विद्यालय में टीचर कैसे बने, सरकारी टीचर कैसे बने, टीचर बनने के लिए 12वीं के बाद क्या करें? आदि जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

टीचर बनने की तैयारी कैसे करें (Teacher Banne Ki Taiyari Kaise Karen) या टीचर बनने के लिए क्या करें (Teacher Banne Ke Liye Kya Kare In Hindi) इसके बारे में पूरी जानकारी यहां से प्राप्त करें। जो विद्यार्थी टीचर बनना चाहते हैं उनके मन में बहुत से प्रश्न होते हैं जैसे टीचर कैसे बनें, टीचर बनने के लिए क्या करें, सरकारी टीचर कैसे बने इत्यादि। आपको बता दें कि एक स्कूल के प्राइमरी टीचर से लेकर कॉलेज के प्रॉफेसर तक टीचर बनने की प्रक्रिया अलग-अलग होती है और सभी के लिए योग्यता मापदंड भी अलग-अलग होते हैं।

कुछ प्राइमरी स्कूल टीचर्स होते हैं, तो कुछ बड़ी क्लास को पढ़ाते हैं और कुछ टीचर्स प्रोफेसर होते हैं। अलग अलग टीचर्स के लिए अलग अलग कोर्स होता है। लेकिन टीचर बनने के लिए किसी विषय में सिर्फ कोर्स करना ही काफी नहीं है, इसके लिए आपको कुछ विशेष परीक्षाएं भी पास करनी होंगी। यह आप पर निर्भर करता है कि आप किस कक्षा के छात्र को पढ़ाना चाहते हैं और आपकी परीक्षा भी उसी आधार पर ली जाएगी। आइये नीचे देखते हैं कि टीचर बनने के लिए कौन सा कौर्स करें और कौन-कौन सी परीक्षाएं देनी होती हैं।

टीचर बनने की तैयारी कैसे करें

12वीं पास करें

अगर आप एक प्राइमरी टीचर बनना हो या कॉलेज प्रोफेसर बनना हो आपको सबसे पहले 12वीं क्लास पास करनी होगी। अब सवाल आता है कि किस सब्जेक्ट को पसंद करें जिससे सरकारी टीचर बन सकें तो 12वीं में वही सब्जेक्ट चुने जिसमें आपको मन लगता हो। 12वीं कक्षा में पूरी मेहनत करें औ अच्छे अंकों से पास हो जायें ताकि आपको अच्छे कॉलेज में एडमिशन मिल सके।

अपने फेवरेट सबजेक्ट पर ध्यान दें

आप जिस विषय का टीचर बनना चाहते हैं उसी सबजेक्ट को पसंद करें और उस विषय की पर अच्छी पकड़ बनाकर रखें। जिससे आप अपने स्टूडेंट्स को अच्छी शिक्षा व ज्ञान दे सकें। इसलिए एक सरकारी टीचर बनने के लिए हमेशा सही सबजेक्ट को पसंद करें।  

ग्रेजुएशन पूरी करें

अगर आप एक सरकारी स्कूल टीचर बनना चाहते हैं तो आपको 12वीं करने के बाद ग्रेजुएशन करनी होगी तभी आपका सरकारी टीचर बनने का रास्ता खुलेगा। ग्रेजुएशन में उसी सब्जेक्ट को चुने जिस सब्जेक्ट में आप इंट्रेस्ट रखते हों। इससे आपको आगे की पढाई करने में काफी फ़ायदा होगा। इसीलिए ग्रेजुएशन में सबजेक्ट का सही चुनाव करें।

टीचर बनने के लिए कौन सा कोर्स करें?

NTT / NPTT कोर्स करें

टीचर बनने के लिए आप नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (NTT) या नर्सरी प्राइमरी टीचर ट्रेनिंग (NPTT) कोर्स भी कर सकते हैं। प्रि-प्राइमरी शिक्षक के लिए आवश्यक शैक्षिक योग्यता में आपके पास एक स्नातक की डिग्री होनी चाहिए साथ ही नर्सरी टीचर्स ट्रेनिंग (NTT) नामक प्रशिक्षण जो कई संस्थान प्रदान कर रही हैं। कई स्कूल ऐसे उम्मीदवार खोजते हैं जिनके पास बच्चों को संभालने का सहज तरीका होता है और बच्चों को संभालने के लिए संयम भी ज़रूरी है।

योग्यता मापदंड

  • NTT / NPTT कोर्स के लिए पात्रता मानदंड 10+2 है।

बीएड कोर्स करें

आप सरकारी स्कूल में टीचर बनना चहाते हैं तो आपके पास बी.एड. की डिग्री होना जरूरी है। बीएड 2 वर्ष का स्नातक कोर्स है। अगर आप बी.एड कर लेते हैं तो आप शिक्षण कार्य करने के लिए तैयार हो जाते हैं। बीएड करने के लिए आपको सबसे पहले एक प्रवेश परीक्षा देनी होगी। उसके बाद एक काउन्सलिंग में उम्मीदवार को उसके रैंक के अनुसार कॉलेज मिलते हैं। बीएड करने के लिए बहुत सारे प्राइवेट और गवर्नमेंट महाविद्यालय है। बीएड किसी गवर्नमेंट से मान्यता प्राप्त महाविद्यालय से करें। ये परीक्षा आम तौर पर जून-जुलाई महीने में आयोजित की जाती हैं। 

ये भी पढ़ें-

बीएड (B.Ed) की पूरी जानकारीयहाँ से पढ़ें

योग्यता मापदंड

  • बीएड में प्रवेश के लिए आवश्यक न्यूनतम योग्यता बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम) व अन्य स्नातक, जो कम से कम 50% अंकों के साथ एक मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से किया हो।

डीएलएड कोर्स करें

जो उम्मीदवार टीचर बनना चाहते हैं उनको बता दें कि वे टीचर बनने के लिए डी. एल. एड कर सकते हैं। बता दें कि डीएलएड का पूरा नाम है डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन। सरकार ने प्राइमरी के बच्चों को पढ़ाने के लिए बहुत कोर्स बनाये हैं जिनको करने के बाद आप एक प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बन सकते हैं। इन्ही कोर्सों में से एक कोर्स डी. एल. एड है। जब आप डी. एल. एड करेंगे तब उसमें आपको बच्चो को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। D.L.ED 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है। डी. एल. एड करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं। आपको ये भी बता दें कि डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन करने के बाद आपको टेट या सीटेट भी पास करना होगा आप तभी सरकारी अध्यापक बन सकते हैं।

ये भी पढ़ें-

डीएलएड (D.El.Ed) की पूरी जानकारीयहाँ से पढ़ें

योग्यता मापदंड

शैक्षिक योग्यता

  • उम्मीदवारों ने किसी भी क्षेत्र में सफलतापूर्वक (बीए, बीएससी, बीकॉम, बीसीए, बीबीए, बीटेक) स्नातक पूरा किया हो।

आयु सीमा

  • आपको बता दें कि पुरुष और महिला दोनों के लिए है आयु सीमा एक ही है।
    • न्यूनतम आयु – 18 वर्ष
    • अधिकतम आयु – 35 वर्ष

टीचर बनने के लिए कौन सा एग्जाम पास करें?

टीईटी (TET) एग्जाम पास करें

टीचर बनने की तैयारी कैसे करें इससे पहले आपको परीक्षा में बारे में जानना चाहिए। जैसे ही आप B.ED कोर्स की पढाई पूरा कर लेते हैं इसके बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है जिसे हम (TET) यानि की टीचर एबिलिटी टेस्ट (Teacher Ebility Test) कहते हैं। उम्मीदवार को बता दें कि अगर आप एक टीचर के पद पर सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आपको टीईटी परीक्षा पास करनी होगी। सभी स्टेट के लिए टीईटी परीक्षा अलग से आयोजित की जाती है।  उम्मीदवार को अगर किसी स्टेट के सरकारी स्कूल में टीचर की जॉब करना है तो उम्मीदवार को टीईटी पास होना होगा।

ये भी पढ़ें-

टीईटी परीक्षा (TET Exam) की पूरी जानकारीयहाँ से प्राप्त करें

योग्यता मापदंड

  • इस एग्जाम को देने के लिए आपको 12वीं और ग्रेजुएशन का डिग्री होना बहुत जरुरी है।
  • अच्छे मार्क्स के साथ इसके बाद आपके पास BED (Bachelor Of Education) का सर्टिफिकेट होना चाहिए।

सीटीईटी (CTET) एग्जाम पास करें

सेंट्रल टीचर एलिजिबिल्टी टेस्ट (CTET) का आयोजन सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (CBSE) द्वारा करवाया जाता है। सीटीईटी टेस्ट का आयोजन साल में दो बार जुलाई और दिसंबर के महीने में नेशनल लेवल पर करवाया जाता है। यह टेस्ट शिक्षकों की योग्यता जांचने के लिए आयोजित करवाया जाता है। सीटीईटी एग्जाम को पास करने के बाद उम्मीदवार केंद्र विद्यालयों में कक्षा 1 से 8वीं तक के सरकारी शिक्षकों के पद पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें-

सीटीईटी (CTET) की पूरी जानकारीयहाँ से प्राप्त करें

योग्यता मापदंड

  • उम्मीदवार को स्नातक व बीएड कोर्स पास किया होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को बीएड में 50% अंक प्राप्त होने चाहिए।
  • CTET के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।

यूजीसी नेट (UGC NET) एंट्रेंस एग्जाम पास करें

टीचर बनने की तैयारी कैसे करें इसके लिए सबसे बड़ी परीक्षा नेट की है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (UGC NET) का आयोजन करवाया जाता है। एनटीए यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन नेशनल लेवल पर असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती और जूनियर रिसर्च फेलोशिप की योग्यता निर्धारित करने व जांचने के लिए करवाया जाता है। एनटीए नेट की परीक्षा साल में दो बार ऑनलाइन सीबीटी के माध्यम से करवाई जाती है।

ये भी पढ़ें-

यूजीसी नेट (UGC NET) की पूरी जानकारीयहाँ से प्राप्त करें

योग्यता मापदंड

  • उम्मीदवारों को मास्टर डिग्री में 55% अंकों के साथ पास होना अनिवार्य है। 
  • जूनियर रिसर्च फेलोशिप के लिए उम्मीदवार की आयु 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

सरकारी टीचर को 4 भागो में बाँट दिया गया है

  1. PRT (Primary Teacher)
  2. TGT (Trained Graduate Teacher)
  3. PGT (Post Graduate Teacher)
  4. Lecturer (Professor)

अन्य आर्टिकल भी पढ़ें:-

अन्य भर्तियों के बारे में जानने के लिएयहाँ क्लिक करें

3 thoughts on “टीचर कैसे बने? | Teacher Banne Ke Liye ऐसे करें तैयारी”

Leave a Comment