एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 हिंदी वसंत अध्याय 13 मैं सबसे छोटी होऊँ

Photo of author
PP Team

छात्र आर्टिकल से एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 हिंदी अध्याय 13 मैं सबसे छोटी होऊँ प्राप्त कर सकते हैं। इस पेज पर Class 6 Hindi Chapter 13 का पूरा समाधान दिया गया है। Chapter 13 मैं सबसे छोटी होऊँ के समाधान से छात्र परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। यहां पर कक्षा 6 हिंदी अध्याय 13 मैं सबसे छोटी होऊँ के सभी प्रश्न उत्तर दिए हुए है। देखा गया है कि छात्र कक्षा 6 की हिंदी किताब के प्रश्न उत्तर के लिए बाजार में मिलने वाली गाइड पर काफी पैसा खर्च कर देते हैं लेकिन यहां से मुफ्त में कक्षा 6 हिंदी पाठ 13 के प्रश्न उत्तर प्राप्त कर सकते हैं। NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 13 मैं सबसे छोटी होऊँ नीचे से देखें।

Ncert Solutions Class 6 Hindi Chapter 13

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 हिंदी का उदेश्य केवल अच्छी शिक्षा देना। छात्र कक्षा 6 हिंदी के लिए एनसीईआरटी समाधान से परीक्षा की तैयारी बेहतर तरीके से कर सकते हैं। एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 हिंदी अध्याय 13 मैं सबसे छोटी होऊँ को राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् के सहायता से बनाए गए है। छात्र नीचे से कक्षा 6 हिंदी के प्रश्न उत्तर देख सकते हैं।

कक्षा : 6
विषय : हिंदी (वसंत भाग -1)
अध्याय : 13
मैं सबसे छोटी होऊँ

प्रश्न अभ्यास

प्रश्न 1 – कविता में सबसे छोटे होने की कल्पना क्यों की गई है ?

उत्तर :- कविता में सबसे छोटे होने की कल्पना इसलिए की गई है क्योंकि बच्ची अपना बचपन अपनी मां की गोद में गुजारना चाहती है। माँ का आंचल पकड़ कर खेलना और सोना चाहती है।

प्रश्न 2 – कविता में ‘ऐसी बड़ी न होऊँ मैं क्यों कहा गया है? क्या तुम भी हमेशा छोटे बने रहना पसंद करोगे ?

उत्तर :- क्योंकि वह बच्ची ही बनी रहना चाहती है। दिन से लेकर रात तक माँ के साथ रहना चाहती है। बढ़ा बनकर सबका और माँ का प्यार खोना नहीं चाहती। मैं भी हमेशा छोटी बना रहना चांहूगी।

प्रश्न 3 – आशय स्पष्ट करो

हाथ पकड़ फिर सदा हमारे

साथ नहीं फिरती दिन-रात !

उत्तर :- इसका मतलब यह है कि जब हम बढ़े हो जाएंगे तुम हमारे साथ समय नहीं बिताओगी। हमारा हाथ पकड़कर दिन रात हमारे साथ नहीं घूमोगी।

प्रश्न 4 – अपने छुटपन में बच्चे अपनी माँ के बहुत करीब होते हैं। इस कविता में नज़दीकी की कौन-कौन सी स्थितियाँ बताई गई हैं ?

उत्तर:-  माँ के आँचल में छिपे रहना, माँ की गोद में सोना, माँ का हाथ पकड़ कर दिन रात घूमना, रात को सोते हुए कहानी सुनना जैसी नजदीकी बताई गई है।

कविता से आगे

प्रश्न 1 – तुम्हारी माँ तुम लोगों के लिए क्या-क्या काम करती है ?

उत्तर :- हमारी माँ हमें सुबह सुबह नहलाती है,  हमारी मालिश करती है, खाना खिलाती है, हमें नए नए कपड़े पहनाती है, अपनी गोद में सुलाती है।

प्रश्न :-2. यह क्यों कहा गया है कि बड़ा बनाकर माँ बच्चे को छलती है ?

उत्तर :- बढ़े होने के बाद हमारी जिम्मेदारिया बढ़ जाती है। उस समय सब काम हमें करने पड़ते है। माँ हमें ना तो नहलाती ना हमें खाना खिलाती ना हमारे आगे पीछे घूमती, ना ही अपनी गोद में सुलाती इसलिए बच्चों को लगता है की बड़े होने के बाद माँ हमें छलती है।

प्रश्न 3 -उन क्रियाओं को गिनाओ जो इस कविता में माँ अपनी बच्ची या बच्चे के लिए करती।

उत्तर :- अपनी बच्ची को गोद में सुलाना, समय पे खाना खिलाना, आँचल पकड़ कर घूमना, पढ़ाना लिखाना।

अनुमान और कल्पना

प्रश्न 1 – इस कविता के अंत में कवि माँ से चंद्रोदय दिखा देने की बात क्यों कर रहा है? चाँद के उदित होने की कल्पना करो और अपनी कक्षा में सुनाओ।

उत्तर :- कवि माँ से चंद्रोदय दिखाने की बात इसलिए कहता है क्योंकि चन्द्र का उद्या होना बहुत ही सुंदर होता है। बच्चे जब माँ के आँचल में सोए होते है तो चाँद देखने की उनसे मिलने की बात करते है। चाँद को देखना मन में शांति लाता है।

प्रश्न 2 – इस कविता को पढ़ने के बाद एक बच्ची और उसकी माँ का चित्र तुम्हारे मन में उभरता है। वह बच्ची और क्या-क्या कहती होगी? क्या-क्या करती होगी? कल्पना करके एक कहानी बनाओ।

उत्तर :- एक बच्ची और माँ का प्यार भरे भाव का चित्र मन में उभरता है। बच्ची सारा दिन माँ के साथ घूमती रहती होगी। खाना पीना माँ ही उसे खिलाती होगी। कई बार तो जब बच्ची को खेलना हो तो कहती होगी माँ तुम भी मेरी गुड़िया के साथ खेलोना। सारा दिन माँ माँ कहकर घूमती रहती होगी।

प्रश्न 3 – माँ अपना एक दिन कैसे गुज़ारती है? कुछ मौकों पर उसकी दिनचर्या बदल जाया करती है जैसे-मेहमानों के आ जाने पर, घर में किसी के बीमार पड़ जाने पर या त्योहार के दिन। इन अवसरों पर माँ की दिनचर्या पर क्या फर्क पड़ता है? सोचो और लिखो।

उत्तर :- ऐसे कई दिन होते है जब कोई अवसर हो, मेहमान घर पर आए हो तब माँ को सुबह जल्दी उठना पड़ता होगा। उनकी सुबह से ही काम की शुरुआत हो जाती होगी। माँ को बैठकर खाना पीना करने का भी समय ना मिलता होगा। सारा दिन सभी इधर उधर घुमाते रहते होंगे। किसी को कोई भी काम हो चाहे छोटा बच्चा हो या बड़ा सबकी जुबान पर माँ का नाम रहता होगा।

भाषा की बात

प्रश्न 1 – नीचे दिए गए शब्दों में अंतर बताओ, उनमें क्या फर्क है ?

स्नेह  –  प्रेम

ग्रह  –  गृह

शाति  –  सन्नाटा

निधन  –  निर्धन

धूल  –  राख

समान  –  सामने

उत्तर :- स्नेह (छोटों के लिए प्रेम)

प्रेम (छोटे, बड़े सभी के लिए प्यार)

शांति (हलचल न होना)

सन्नाटा (चारों तरफ चुप्पी होना)

धूल (मिट्टी)

राख (लकड़ी का जला भाग)

ग्रह (नक्षत्र)

गृह (घर)

निधन (मृत्यु) 

निर्धन (गरीब)

समान (बराबर)

सामान (वस्तु)

प्रश्न 2 – कविता में ‘दिन-रात’ शब्द आया है। दिन-रात का विलोम है। तुम ऐसे चार शब्दों के जोड़े सोचकर लिखो जो विलोम शब्दों से मिलकर बने हों। जोड़ों के अर्थ को समझने | के लिए वाक्य भी बनाओ।

उत्तर :- ऊपर:-निचे(तुम ऊपर चलें जाओ, तुम निचे आ जाओ।)

 सच :- झूठ(तुमने मुझसे सच बोला, तुमने मुझसे झूठ बोला।)

 मीठा :- कड़वा(मिठाई बहुत मीठी है, सूप बहुत कड़वा है।)

 अँधेरा :- उजाला(तुम्हारे यहाँ कितना अँधेरा है, लाइट बंद करदो बहुत उजाला है।)

कुछ करने को

प्रश्न 1 – कक्षा में बच्चों को उनकी मरज़ी से दो समूहों में रखें

(क) एक समूह में वे जो छोटा बने रहना चाहते हैं।

(ख) दूसरे समूह में वे जो बड़े होना चाहते हैं।

• इन दोनों समूह के सभी बच्चे एक-एक कर बताएँगे कि वे क्यों छोटा बने रहना चाहते हैं या क्यों बड़ा होना चाहते हैं?

उत्तर :- बच्चे समूह बनाकर अपने अपने मन की भावना बताए कि वे क्यूँ छोटा और क्यूँ बड़े रहना चाहते है।

कक्षा 6 हिंदी वसंत के सभी अध्यायों के एनसीईआरटी समाधान नीचे देखें

अध्यायअध्यायों के नाम
1वह चिड़िया जो
2बचपन
3नादान दोस्त
4चाँद से थोड़ी-सी गप्पें
5अक्षरों का महत्व
6पार नज़र के
7साथी हाथ बढ़ाना
8ऐसे–ऐसे
9टिकट अलबम
10झाँसी की रानी
11जो देखकर भी नहीं देखते
12संसार पुस्तक है
13मैं सबसे छोटी होऊं
14लोकगीत
15नौकर
16वन के मार्ग में
17साँस साँस में बाँस

छात्रों को एनसीईआरटी समाधान कक्षा 6 हिंदी अध्याय 13 मैं सबसे छोटी होऊं प्राप्त करके काफी ख़ुशी हुई होगी। छात्रों को class 6 hindi chapter 13 के प्रश्न उत्तर से परीक्षा में बहुत सहायता मिलेगी। इसके अलावा आप parikshapoint.com के एनसीईआरटी के पेज से सभी विषयों के एनसीईआरटी समाधान (NCERT Solutions in hindi) और हिंदी में एनसीईआरटी की पुस्तकें (NCERT Books In Hindi) भी प्राप्त कर सकते हैं। हम आशा करते है आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

कक्षा 6 बाल रामकथा और दूर्वा के एनसीईआरटी समाधानयहाँ से देखें

Leave a Comment