NDA Full Form In Hindi: एन.डी.ए. क्या है, योग्यता, तैयारी, फीस

Photo of author
Mamta Kumari

एनडीए की फुल फॉर्म (NDA Full Form In Hindi)- आज कई ऐसे युवा हैं जो भारतीय थलसेना, नौसेना या वायुसेना में जाने के सपने देखते हैं और उन्हें पूरा करने की भरसक कोशिश भी करते हैं। लेकिन वर्दी पहनकर देश की सेवा करने का अवसर हर किसी को नहीं मिलता। क्योंकि इसके लिए कई परीक्षाएं पास करनी पड़ती हैं, जिनमें एन.डी.ए. (N.D.A.) का नाम भी शामिल है। इसकी परीक्षा हर वर्ष दो बार संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित करवाई जाती है। जिसे पास करने के लिए कड़ी मेहनत और श्रेष्ठ योग्ता की आवश्यकता होती है। इस परीक्षा को संक्षेप में “एन.डी.ए. प्रवेश-परीक्षा” भी कहते हैं। 

एनडीए की फुल फॉर्म

एनडीए एक ऐसी परीक्षा है जिसके कई चरण आवेदक को पास करने होते हैं। इसमें योग्यता/ज्ञान से लेकर, मनोवैज्ञानिक, सामाजिक और शारीरिक कौशल के साथ-साथ टीम कौशल जैसे टेस्ट शामिल होते हैं। उसेक बाद अंतिम चरण में आपको इंटरव्यू देना होता है, फिर आपको राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में तीन वर्ष के लिए प्रशिक्षण के लिए भेज दिया जाता है। अंत में जो भी अभ्यर्थी इस प्रशिक्षण को पूरा करते हैं, उन्हें ‘कैडेट’ कहा जाता है। अगर आप भी 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुके हैं या करने वाले हैं तो आप भी एन.डी.ए. कि तैयारी कर सकते हैं और देश की सेवा करने के साथ-साथ एक सम्मानित पद को प्राप्त कर सकते हैं। आपको बता दें कि इस परीक्षा ने भारत के साथ-साथ पड़ोसी देश के युवाओं को अपनी और काफी आकर्षित किया है। 

एन.डी.ए. क्या है?

राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एन.डी.ए.) एक प्रशिक्षण संस्थान है, जोकि महाराष्ट्र में पुणे के पास खडकवासला में स्थित है। एन.डी.ए. की परीक्षा राष्ट्रीय स्तर की एक ऐसी प्रवेश-परीक्षा है, जो युवाओं को थलसेना, नौसेना और वायु सेना में जाने का विशेष अवसर प्रदान करती है। संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित लिखित परीक्षा में पास होने के बाद आपका एन.डी.ए. के लिए चयन होता है। लिखित परीक्षा दो से ढाई घंटे की होती है। हर साल इस लिखित परीक्षा में लगभग 3,00,000 परीक्षार्थी परीक्षा-भवन में बैठते हैं, जिनमें से लगभग 10,000 परीक्षार्थी को ही साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। फिर साक्षात्कार में सफल होने वाले उम्मीदवारों को राष्ट्र रक्षा अकादमी (एन.डी.ए.) में तीन वर्ष की ट्रेनिंग दी जाती है। तीन वर्ष पूरे होने के बाद उम्मीदवार को उनकी योग्यता और पसंद के अनुसार भारतीय थलसेना, नौसेना या वायुसेना में अच्छे वेतन के साथ नौकरी दे दी जाती है।

एन.डी.ए. फुल फार्म

एन.डी.ए. का पूरा नाम हिंदी और अंग्रेजी में नीचे टेबल में पढ़ें।

एन.डी.ए. की फुल फार्म हिंदी में (NDA Full Form In Hindi)एन.डी.ए. की फुल फार्म इंग्लिश में (NDA Full Form In English)
“राष्ट्रीय रक्षा अकादमी” “नेशनल डिफेंस एकेडमी” (National Defence Academy) 

ये फुल फॉर्म भी देखें

एमबीए की फुल फॉर्म (MBA Full Form In Hindi)
इसरो की फुल फॉर्म (ISRO Full Form In Hindi)
आईटीआई की फुल फॉर्म (ITI Full Form In Hindi)
एनडीए की फुल फॉर्म (NDA Full Form In Hindi)

एन.डी.ए. का इतिहास

वैसे तो एनडीए को स्थापित करने की कल्पना द्वितीय विश्व युद्ध समाप्त होने के बाद की गई थी। लेकिन स्वतंत्रता के बाद 6 अक्टूबर 1949 को भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा राष्ट्रीय रक्षा अकादमी की नींव रखी गई और इसे गौण रूप से 7 दिसंबर 1954 को शुरू किया गया। जिसके लिए वर्ष 1955 को एक समारोह उद्घाटन आयोजित किया गया था। आज एन.डी.ए. की परीक्षा पास करना भारत के कई युवाओं का सपना बन चुका है।     

एन.डी.ए. के लिए योग्यता

  • आवेदक किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं उत्तीर्ण हो। 
  • नौसेना और वायु सेना के लिए अभ्यर्थी को 12वीं गणित और भौतिकी में पास करनी होगी।  
  • 12वीं कक्षा के बोर्ड की परीक्षा देने वाले विद्यार्थी भी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। 
  • वायु सेना में भर्ती पाने के लिए दृष्टि संबंधित कोई भी रोग नहीं होना चाहिए। क्योंकि एन.डी.ए. में जाने के लिए मेडिकल आवश्यकताओं को पूरा करना बेहद जरूरी है।  
  • आवेदक की आयु 16.5 वर्ष से 19.5 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। 
  • आवेदक पुरुष हो या महिला दोनों अविवाहित होने चाहिए। 
  • आवेदक भारतीय, नेपाली या भूटान का निवासी होना चाहिए। 
  • पहले एन.डी.ए. के लिए सिर्फ पुरुषों का चयन होता था, लेकिन अब महिलाएं भी आवेदन कर सकती हैं।
  • इस परीक्षा में हरियाणा राज्य की 19 साल की शनन ढाका देश की पहली महिला बनीं हैं, जिन्होंने एन.डी.ए. में उच्च स्थान प्राप्त करके देश में महिलाओं को एक नई दिशा दी है। 

एन.डी.ए. परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें? 

अभ्यर्थी यू.पी.एस.सी. (UPSC) की ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। आप अपनी योग्यता अनुसार भारतीय सेना के तीनों अंग- जल, थल और वायु सेना में जानें के लिए आवेदन कर सकते हैं। एन.डी.ए. की परीक्षा वर्ष में दो बार करवाई जाती है और इसके फॉर्म जून और दिसंबर के महीनें में ऑनलाइन माध्यम से जारी किए जाते हैं। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, महिला उम्मीदवारों, जेसीओ, एनसीओ, ओआरएस के वार्डों आदि को आवेदन शुल्क में रियायत दी जाती है। लेकिन सामान्य श्रेणी के लिए भुगतान शुल्क 100 रुपए है। लोगों को लगता है कि आर्ट्स के विद्यार्थी एन.डी.ए. की परीक्षा में नहीं बैठ सकते। लेकिन ऐसा नहीं है, आर्ट्स के विद्यार्थी भी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।    

एन.डी.ए की परीक्षा कैसे होती है?

अभ्यर्थी को एन.डी.ए. में प्रवेश लेने के लिए परीक्षा के तीन स्तरों से गुजरना होता है- 

  1. लिखित परीक्षा 
  2. साक्षात्कार (इंटरव्यू)  
  3. शारीरिक दक्षता  

एन.डी.ए. में भर्ती के लिए लिखित परीक्षा और इंटरव्यू होता है। लिखित परीक्षा में लगभग दो से ढाई घंटे के पेपर होते हैं। इसकी परीक्षा यू.पी.एस.सी. (UPSC) की ओर से आयोजित की जाती है। जिसमें आपसे बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं। प्रश्न हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में होते हैं। 

लिखित परीक्षा में दो पेपर होते हैं- 

पेपर- 1 पेपर- 2 
इस पेपर में अंकगणित, बीजगणित, सांख्यिकी, त्रिकोणमिति से जुड़े प्रश्न होते हैं। इस पेपर में सामान्य ज्ञान, अंग्रेजी, सामान्य विज्ञान, इतिहास, भूगोल, रसायन विज्ञान, भौतिकी विज्ञान, और करंट अफेयर्स से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं। 
प्रश्नों कि संख्या 110 होती है। कुल 300 प्रश्न होते हैं। इसमें कुल 150 प्रश्न होते हैं, जिसमें से अंग्रेजी के 50 प्रश्न और सामान्य ज्ञान के 100 प्रश्न होते हैं। 
सभी सही उत्तर के लिए 2.5 अंक निश्चित होते हैं, लेकिन निगेटिव मार्किंग निश्चित है, जिसके तहत हर गलत उत्तर पर 0.85 अंक घटा दिया जाता है। प्रत्येक सही उत्तर के लिए 4 अंक प्राप्त होते हैं। इस प्रकार ये पेपर कुल 600 अंकों का होता है। इसमें गलत उत्तर के लिए 1.33 अंक काटे जाते हैं। 
इस पेपर के लिए कुल समय 150 मिनट निश्चित होता है।  इस पेपर के लिए कुल समय ढाई घंटे निश्चित होता है। 

एन.डी.ए. का इंटरव्यू कौन-सी भाषा में होता है?

वैसे तो यू.पी.एस.सी. (UPSC) बोर्ड आपको अंग्रेजी भाषा में इंटरव्यू देने कि सलाह देता है, लेकिन आप पर कोई दबाव नहीं डालता। अगर आप किसी और भाषा में सहज महसूस करते हैं, तो उस भाषा में भी आप अपना इंटरव्यू दे सकते हैं। आप किसी क्षेत्रीय भाषा या हिंदी का भी उपयोग कर सकते हैं। इंटरव्यू के बाद शारीरिक दक्षता को पास करने के लिए उम्मीदवार को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए। 

एन.डी.ए. करने से क्या होता है?

परीक्षा पास करने के बाद आपको राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के कैडेट के रूप में उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त होती है। और आपको एक जिम्मेदार भारतीय नागरिक बनने के लिए तैयार करती है। साथ ही सभी कैडेट नेतृत्व कौशल प्राप्त करते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद आप भारतीय थलसेना, नौसेना या वायुसेना में ए-ग्रेड पद पर कार्य कर सकते हैं। 

एन.डी.ए. की तैयारी कैसे करें?

इसके लिए आपको निम्नलिखित कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं का ध्यान रखना होगा-  

  • सबसे पहले खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत रखें। 
  • गणित विषय पर सबसे ज़्यादा ध्यान दें। अंकगणित, बीजगणित, सांख्यिकी और त्रिकोणमिति से जुड़े प्रश्नों को ज़्यादा से ज़्यादा हल करें। 
  • जिस विषय में कमजोर हैं, आप उसे ज़्यादा समय दें।
  • प्रत्येक दिन हिंदी और अंग्रेजी अखबार पढ़ें।  
  • करेंट अफेयर्स और सामान्य ज्ञान पर जरूर ध्यान दें। 
  • एन.डी.ए. के पिछले चार से पाँच सालों तक के प्रश्न-पत्र जरूर देखें और उसे हल करने कि कोशिश करें।  
  • अपने अनुसार समय-सारणी बनायें और हर दिन उसी समय पर उसी विषय की पढ़ाई करें। 

एन.डी.ए. की फीस

  • चयन के बाद कैडेट से तीन साल की ट्रेनिंग के लिए सरकार कोई शुल्क नहीं लेती है। बल्कि सरकार खुद आवास, किताबें, वर्दी, भोजन और चिकित्सा उपचार सहित एन.डी.ए. प्रशिक्षण शुल्क अपनी तरफ से भरती है। 
  • कैडेटों के माता-पिता अपने खर्चें खुद वहन करते है, लेकिन अगर उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और वे अपने खर्चों को वहन करने में असमर्थ हैं, तो सरकार प्रशिक्षण अवधि के दौरान हर महीने 1000/- रुपये की वित्तीय सहायता करती है, शर्त ये है कि कैडेट के माता-पिता की मासिक आय 21,000/- से कम होनी चाहिए। अगर मासिक आय 21,000 से अधिक है, तो वे सहायता के पात्र नहीं होंगे।
  • अगर दो भाइयों का कैडेट रूप में चयन हुआ है, तो दोनों ही वित्तीय सहायता के हकदार होंगे।

एन.डी.ए. के बाद वेतन 

वेतन रैंक के मुताबिक कैडेट को मिले पद पर निर्भर करता है- 

रैंक/पद एन.डी.ए. मासिक वेतन 
लेफ्टिनेंट56,100 – 1,77,500 रुपये
कैप्टन61,300 – 1,93,900 रुपये
मेजर लेवल69,400 – 2,07,200 रुपये
लेफ्टिनेंट कर्नल1,21,200 – 2,12,400 रुपये
कर्नल1,30,600 – 2,15,900 रुपये
ब्रिगेडियर1,39,600 – 2,17,600 रुपये
मेजर जनरल1,44,200 – 2,18,200 रुपये
लेफ्टिनेंट जनरल एचएजी स्केल1,82,200 – 2,24,100 रुपये
एचएजी+स्केल2,05,400 – 2,24,400 रुपये
वीसीओएएस/सेना कमांडर/लेफ्टिनेंट जनरल (एनएफएसजी)2,25,000 रुपये (निर्धारित)
COAS, थलसेनाध्यक्ष, जनरल2,50,000 रुपये (निर्धारित)
FAQs

प्रश्न: एन.डी.ए. की परीक्षा साल में कितनी बार होती है?
उत्तर: एन.डी.ए. की परीक्षा वर्ष में दो बार होती है। 

प्रश्न: एन.डी.ए. की परीक्षा किसके द्वारा आयोजित होती है?
उत्तर: यह परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित करवाई जाती है।

प्रश्न: एन.डी.ए. में ‘कैडेट’ किसे कहते हैं?
उत्तर: एन.डी.ए. में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले अभ्यर्थी को ‘कैडेट’ कहा जाता है।   

प्रश्न: क्या आर्ट्स के विद्यार्थी एन.डी.ए. के लिए आवेदन कर सकते हैं?
उत्तर: जी हाँ, आर्ट्स के विद्यार्थी भी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

प्रश्न: एन.डी.ए. एग्जाम से क्या बनते हैं?
उत्तर: एन.डी.ए की परीक्षा पास करने के बाद भारतीय थलसेना, नौसेना या वायुसेना में आपकी भर्ती अच्छे वेतन के साथ ए-ग्रेड के पदों पर होती है। 

प्रश्न: एन.डी.ए. में 3 साल की फीस कितनी है?
उत्तर: चयन के बाद कैडेट से तीन साल की ट्रेनिंग के लिए सरकार कोई शुल्क नहीं लेती है बल्कि सरकार खुद आवास, किताबें, वर्दी, भोजन और चिकित्सा उपचार सहित एन.डी.ए. प्रशिक्षण शुल्क अपनी तरफ से भरती है। 

प्रश्न: भारत की पहली महिला एन.डी.ए टॉपर कौन हैं? 
उत्तर: हरियाणा राज्य की 19 साल की शनन ढाका देश की पहली महिला एन.डी.ए. टॉपर हैं। 

अन्य फुल फॉर्म के लिएयहाँ क्लिक करें

Leave a Reply