एनसीईआरटी समाधान कक्षा 10 हिंदी स्पर्श अध्याय 14 कारतूस

Photo of author
Ekta Ranga

हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपके लिए कक्षा 10वीं हिन्दी स्पर्श अध्याय 14 के एनसीईआरटी समाधान लेकर आए हैं। यह कक्षा 10वीं हिन्दी स्पर्श के प्रश्न उत्तर सरल भाषा में बनाए गए हैं ताकि छात्रों को कक्षा 10वीं स्पर्श अध्याय 14 के प्रश्न उत्तर समझने में आसानी हो। यह सभी प्रश्न उत्तर पूरी तरह से मुफ्त हैं। इसके लिए छात्रों से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा। कक्षा 10वीं हिंदी की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए नीचे दिए हुए एनसीईआरटी समाधान देखें।

Ncert Solutions For Class 10 Hindi Sparsh Chapter 14

कक्षा 10 हिन्दी के एनसीईआरटी समाधान को सीबीएसई सिलेबस को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। यह एनसीईआरटी समाधान छात्रों की परीक्षा में मदद करेगा साथ ही उनके असाइनमेंट कार्यों में भी मदद करेगा। आइये फिर कक्षा 10 हिन्दी स्पर्श अध्याय 14 कारतूस के प्रश्न उत्तर (Class 10 Hindi Sparsh Chapter 14 Question Answer) देखते हैं।

कक्षा : 10
विषय : हिंदी (स्पर्श भाग 2)
पाठ : 14 कारतूस (हबीब तनवीर)

प्रश्न-अभ्यास

मौखिक

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-दो पंक्तियों में दीजिए-

1. कर्नल कालिंज का खेमा जंगल में क्यों लगा हुआ था?

उत्तर :- वजीर अली को गिरफ्तार करने हेतु कर्नल कॉलिज के द्वारा जंगल में खेमा लगाया हुआ था।

2. वज़ीर अली से सिपाही क्यों तंग आ चुके थे?

उत्तर :- वजीर अली ने सिपाहियों और अंग्रेजों की नाक में दम कर रखा था। जब भी सिपाही उसे पकड़ने जाते तो वह फरार हो जाता था। उसने सभी के छक्के छुड़ा रखे थे।

3. कर्नल ने सवार पर नज़र रखने के लिए क्यों कहा?

उत्तर :- कर्नल ने सवार पर नज़र रखने के लिए क्यों कहा ताकि यह पता लगाया जा सके कि घोड़े पर सवार आदमी आखिर कौन है।

लिखित

(क) निम्नलिखित प्रश्न का उत्तर (25-30 शब्दों में) लिखिए-

1. वज़ीर अली के अफ़साने सुनकर कर्नल को रॉबिनहुड की याद क्यों आ जाती थी?

उत्तर :- वज़ीर अली के अफ़साने सुनकर कर्नल को रॉबिनहुड की याद इसलिए आ जाती थी क्योंकि वजीर अली के मन में भी अंग्रेजों के खिलाफ नफरत भरी हुई थी। वजीर अली भी बहुत दिलेर और साहसी था। वह अंग्रेजों से बिलकुल भी नहीं डरता था।

2. सआदत अली कौन था? उसने वज़ीर अली की पैदाइश को अपनी मौत क्यों समझा?

उत्तर :- सआदत अली को सब आसिफउदौला के भाई और वज़ीर अली के चाचा के रूप में जानते थे। सआदत अली की शादी तो हुई थी लेकिन उसे कोई संतान नहीं हुई थी। जब उसके यहाँ वज़ीर अली के रूप में भतीजा पैदा हुआ तो उसकी पैदाइश उसे अपनी मौत के समान लगी।

3. सआदत अली को अवध के तख्त पर बिठाने के पीछे कर्नल का क्या मकसद था?

उत्तर :- सआदत अली को अवध के तख्त पर बिठाने के पीछे कर्नल का मकसद अपना स्वार्थ निकालना था। अंग्रेजों ने सआदत अली को जैसे ही उसे अवध के तख्त पर बैठाया, उनको इससे बहुत फायदा हुआ। वह जैसे ही तख्त पर बैठा उसने अंग्रेजों के साथ 10 लाख रुपए बांटे। इसके साथ उसने अंग्रेजों को आधी से ज्यादा संपति भी दे दी।

4. कंपनी के वकील का कत्ल करने के बाद वज़ीर अली ने अपनी हिफ़ाज़त कैसे की?

उत्तर :- कंपनी के वकील का कत्ल करने के बाद वज़ीर अली ने अपनी हिफ़ाज़त एक नवाब के यहाँ शरण लेकर करी। दरअसल आजमगढ़ के वकील ने उसे अपने यहां शरण लेने को कहा। वजीर अली उस नवाब की शरण में महफूज था। बाद में उस नवाब की सहायता से वजीर अली को एक घने जंगल में रहने को भेज दिया गया।

5. सवार के जाने के बाद कर्नल क्यों हक्का-बक्का रह गया?

उत्तर :- सवार के जाने के बाद में कर्नल इसलिए हक्का बक्का रह गया क्योंकि उसे यह मालूम तक नहीं चला कि कैसे वजीर अली भेष बदलकर आया और कैसे वह कर्नल की आंखों में धूल झोंक कर चला गया। कर्नल को ऐसा लगा कि उसने वजीर अली को पकड़ने के लिए इतना समय लगाया और वह इस तरह से सभी को चकमा देकर भाग गया। वजीर अली बड़ी ही चतुराई से कैंप में दाखिल होकर कारतूस लेकर निकल गया।

(ख) निम्नलिखित प्रश्न का उत्तर (50-60 शब्दों में) लिखिए –

1. लेफ्टीनेंट को ऐसा क्यों लगा कि कंपनी के खिलाफ़ सारे हिंदुस्तान में एक लहर दौड़ गई है?

उत्तर :- लेफ्टिनेंट को यह पता चला कि अफ़गानिस्तान का बादशाह शाहे-ज़मा भी भारत पर हमला करने की फिराक में है। वज़ीर अली और शमसुद्दौला भी अंग्रेजों पर हमला करना चाहते हैं। ऐसा सुनकर लेफ्टिनेंट को पता चल गया कि हिंदुस्तान में कंपनी के खिलाफ एक लहर दौड़ रही है। और सब मिलकर ब्रिटिश हुकूमत को भारत से उखाड़ना चाहते हैं।

प्रश्न 2 . वज़ीर अली ने कंपनी के वकील का क़त्ल क्यों किया?

उत्तर :- वजीर अली ने कंपनी के वकील का क़त्ल इसलिए किया क्योंकि उसने वकील को अपना केस लड़ने के लिए बनारस से बुलाया था। वकील ने वजीर अली की शिकायत को नजरअंदाज कर दिया। ऐसे में वजीर अली ने गुस्से में आकर उसका कत्ल कर दिया।

3. सवार ने कर्नल से कारतूस कैसे हासिल किए?

उत्तर :- सवार दरअसल खुद वजीर अली ही था। उसने कर्नल के कैंप में भेष बदलकर दाखिला लिया। कर्नल को पता ही नहीं चला कि वजीर अली कैसे एक सवार के रूप में आया और कैसे वह कर्नल को चकमा देकर कारतूस लेकर भी निकल गया।

4. वज़ीर अली एक जाँबाज़ सिपाही था, कैसे? स्पष्ट कीजिए

उत्तर :- वजीर अली सही में एक जाबांज सिपाही था। उसे किसी का भी डर नहीं था। उसने बिना डरे अंग्रेजों के खिलाफ जंग छेड़ दी। इसका सबसे बड़ा उदाहरण है कि उसने अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए थे। वह अंग्रेजों की आंखों में धूल झोंक कर चला गया था। एक बार वह अपना भेष बदलकर कर्नल के कैंप में सवार के रूप में दाखिल हो गया। लेकिन कर्नल को यह पता तक नहीं चला कि वजीर अली कैसे कैंप में आया और कैसे वह फट से कैंप से फरार हो गया।

(ग) निम्नलिखित का आशय स्पष्ट कीजिए –

1. मुट्ठीभर आदमी और इतना दमखम

उत्तर :- इस लाइन के माध्यम से लेखक वजीर अली की वीरता का बखान कर रहा है। वजीर अली बहुत ही बहादुर आदमी था। उसने अंग्रेजों के सामने कभी भी हार नहीं मानी। उसने अंग्रेजों की नाक में दम कर दिया था। वह हर बार अंग्रेजों की आंखों में धूल झोंक कर चला जाता था। उसने कभी भी अंग्रेजों के आगे घुटने नहीं टेके। अंग्रेज हर बार उसे पकड़ने में नाकाम रहते।

2. गर्द तो ऐसे उड़ रही है जैसे कि पूरा एक काफ़िला चला आ रहा हो मगर मुझे तो एक ही सवार नज़र आता है।

उत्तर :- इस लाइन का अर्थ यह है कि यहां लेफ्टिनेंट बताना चाह रहा है कि जब वजीर अली सवार के रूप में घोड़े पर चलता हुआ आया तो उसे सिर्फ एक पल के लिए ऐसा लगा जैसे कोई बहुत बड़ा काफ़िला आ रहा हो। क्योंकि धूल भी ऐसी ही तरीके से उड़ रही थी कि कोई काफ़िला हो। लेकिन जल्दी ही उसे पता चल गया कि एक ही सवार था।

भाषा अध्ययन

1. निम्नलिखित शब्दों का एक एक पर्याय लिखिए-खिलाफ़, पाक, उम्मीद, हासिल, कामयाब, वजीफ़ा, नफरत, हमला, इंतेज़ार, मुमकिन

उत्तर :-

खिलाफ़ – विरुद्ध

पाक – पवित्र

उम्मीद- आशा

हासिल – प्राप्त

कामयाब – सफल

वजीफा- छात्रवृत्ति

नफ़रत – घृणा

हमला – आक्रमण

इंतेज़ार – प्रतीक्षा

मुमकिन – संभव

2. निम्नलिखित मुहावरों का अपने वाक्यों में प्रयोग कीजिए-आँखों में धूल झोंकना, कूट-कूट कर भरना, काम तमाम कर देना, जान बख्श देना ,हक्का बक्का रह जाना।

उत्तर :-

(क) आँखों में धूल झोंकना- बिल्ली आंखों में धूल झोंक कर दूध पी गई।

(ख) कूट-कूट कर भरना – उसके मन में मीरा के प्रति कूट-कूट कर नफरत भरी हुई थी।

(ग) काम तमाम कर देना- उसने मोहन का काम तमाम कर दिया।

(घ) जान बख्श देना- शैतान ने किसी की भी जान नहीं बख्शी।

(ङ) हक्का- बक्का रह जाना- मालिक को देखकर चोर हक्का बक्का रह गया।

3. कारक वाक्य में संज्ञा या सर्वनाम का क्रिया के साथ संबंध बताता है। निम्नलिखित वाक्यों में कारकों को रेखांकित कर उनके नाम लिखिए-

(क) जंगल की जिंदगी बड़ी खतरनाक होती है।
(ख) कंपनी के खिलाफ़ सारे हिंदुस्तान में एक लहर दौड़ गई।
(ग) वज़ीर को उसके पद से हटा दिया गया।
(घ) फ़ौज के लिए कारतूस की आवश्यकता थी।
(ङ) सिपाही घोड़े पर सवार था।

उत्तर :-

(क) जंगल की जिंदगी बड़ी खतरनाक होती है। संबंध कारक
(ख) कंपनी के खिलाफ़ सारे हिन्दुस्तान में एक लहर दौड़ गई। संबंध कारक अधिकरण कारक
(ग) वजीर को उसके पद से हटा दिया गया। कर्म कारक, अपादान कारक
(घ) फ़ौज के लिए कारतूस की आवश्यकता थी। सप्रदान कारक संबंध कारक
(ङ) सिपाही घोड़े पर सवार था। अधिकरण कारक

4. नीचे दिए गए वाक्यों में ‘ने’ लगाकर उन्हें दुबारा लिखिए-

(क) घोड़ा पानी पी रहा था।
(ख) बच्चे दशहरे का मेला देखने गए।
(ग) रॉबिनहुड गरीबों की मदद करता था।
(घ) देशभर के लोग उसकी प्रशंसा कर रहे थे।

उत्तर :-

(क) घोड़े ने पानी पी लिया।
(ख) बच्चों ने दशहरे का मेला देख लिया।
(ग) रॉबिनहुड ने गरीबों की मद्द की थी। 
(घ) देशभर के लोगों ने उसकी प्रशंसा की थी।

5. निम्नलिखित वाक्यों में उचित विराम-चिह्न लगाइए –

(क) कर्नल ने कहा सिपाहियों इस पर नज़र रखो ये किस तरफ़ जा रहा है

(ख) सवार ने पूछा आपने इस मकाम पर क्यों खेमा डाला है इतने लावलश्कर की क्या ज़रूरत है

(ग) खेमे के अंदर दो व्यक्ति बैठे बाते कर रहे थे चाँदनी छिटकी हुई थी और बाहर सिपाही पहरा दे रहे थे एक व्यक्ति कह रहा था दुशमन कभी भी हमला कर सकता है।

उत्तर :-

(क) कर्नल ने कहा, ‘सिपाहियों इस पर नज़र रखो ये किस तरफ जा रहा है?”

(ख) सवार ने पूछा, “आपने इस मकाम पर क्यों खेमा डाला है? इतने लावलशकर की क्या जरूरत है ? “

(ग) खेमे के अंदर दो व्यक्ति बैठे बातें कर रहे थे। चाँदनी छिटकी हुई थी और बाहर सिपाही पहरा दे रहे थे। एक व्यक्ति कह रहा था, “दुश्मन कभी भी हमला कर सकता है।”

विद्यार्थियों को कक्षा 10वीं हिंदी अध्याय 14 कारतूस के प्रश्न उत्तर प्राप्त करके कैसा लगा? हमें अपना सुझाव कमेंट करके ज़रूर बताएं। कक्षा 10वीं हिंदी स्पर्श अध्याय 14 के लिए एनसीईआरटी समाधान देने का उद्देश्य विद्यार्थियों को बेहतर ज्ञान देना है। इसके अलावा आप हमारे इस पेज की मदद से सभी विषयों के एनसीईआरटी समाधान और एनसीईआरटी पुस्तकें भी प्राप्त कर सकते हैं।

 कक्षा 10 हिन्दी क्षितिजसंचयनकृतिका के समाधानयहाँ से देखें

Leave a Comment