एनसीईआरटी समाधान कक्षा 8 सामाजिक विज्ञान भूगोल अध्याय 1 संसाधन

Photo of author
PP Team

छात्र इस आर्टिकल के माध्यम से एनसीईआरटी समाधान कक्षा 8 सामाजिक विज्ञान भूगोल अध्याय 1 संसाधन प्राप्त कर सकते हैं। छात्रों के लिए संसाधन एवं विकास कक्षा 8 प्रश्न उत्तर साधारण भाषा में बनाए गए है। कक्षा 8 भूगोल अध्याय 1 संसाधन के लिए एनसीईआरटी समाधान को सीबीएसई सिलेबस को ध्यान में रखकर बनाया गया हैं। ताकि छात्र kaksha 8 sansadhan aur vikas अध्याय 1 संसाधन के पेपर में अच्छे अंक प्राप्त कर सके। सामाजिक विज्ञान कक्षा आठवीं भूगोल अध्याय 1 संसाधन के प्रश्न उत्तर नीचे देखें।

NCERT Solutions Class 8 Social Science Geography Chapter 1 in Hindi Medium

एनसीईआरटी समाधान कक्षा 8 भूगोल अध्याय 1 संसाधन को राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के सहायता से बनाया गया है। देखा गया है कि छात्र कक्षा 8 सामाजिक विज्ञान पाठ 1 के प्रश्न उत्तर के लिए बाजार मिलने वाली गाइड पर काफी पैसा खर्च कर देते हैं। फिर उसको रखने में भी दिक्क्तों का सामना करना पड़ता हैं। लेकिन यहां से class 8 samajik vigyan chapter 1 question answer ऑनलाइन और मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं। कक्षा 8 भूगोल अध्याय 1 संसाधन के प्रश्न उत्तर नीचे से प्राप्त करें।

अभ्यास

प्रश्न 1 – निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए :-

(i) पृथ्वी पर संसाधन असमान रूप से क्यों वितरित हैं ?

उत्तर :- पृथ्वी पर संसाधन प्रचुर मात्रा में पाए जाते है। प्राकृतिक संसाधनों का वितरण भूभाग, जलवायु, ऊँचाई जैसे अनेक भौतिक कारकों पर निर्भर करता है। पृथ्वी पर इन कारकों में अनेक विभिन्नता पाई जाती है और इन्हीं विभिन्नताओं के कारण पृथ्वी पर संसाधन असमान रूप से वितरित है।

(ii) संसाधन संरक्षण क्या है ?

उत्तर :- संसाधनों का सतर्कतापूर्वक उपयोग करना और उन्हें नवीकरण के लिए समय देना, संसाधन संरक्षण कहलाता है। संसाधनों के संरक्षण के अनेक तरीके है। प्रत्येक व्यक्ति उपभोग को कम करके वस्तुओं के पुन: चक्रण और पुन: उपयोग द्वारा योगदान दे सकता है, अर्थात संसाधन संरक्षण कर सकता है।

(iii) मानव संसाधन महत्त्वपूर्ण क्यों हैं ?

उत्तर :- मानव संसाधन से तात्पर्य लोगों की संख्या और योग्यता (मानसिक तथा शारीरिक) से है। मानव संसाधन इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि मनुष्य की कुशलताएं ही संसाधनों को प्रयोग में लाती है। लोग और अधिक संसाधन बनाने के लिए प्रकृति का सबसे अच्छा उपयोग तभी कर सकते है जब उनके पास ज्ञान, कौशल और प्रौद्योगिकी उपलब्ध हो, और इसमे मनुष्य ही एक विशिष्ट प्रकार का संसाधन है। मनुष्य ही संसाधनों का प्रयोग करना अच्छे से जानता है। शिक्षा और स्वास्थ्य का अच्छे से उपयोग करके मानव ने संसाधन को अत्यधिक महत्वपूर्ण बनाया है।

(iv) सततपोषणीय विकास क्या है ?

उत्तर:- संसाधनों का उपयोग करने की आवश्यकता और भविष्य के लिए उनके संरक्षण में संतुलन बनाए रखना, सततपोषणीय विकास कहलाता है। इससे तात्पर्य यह है कि संसाधनों का सावधानीपूर्वक उपयोग ताकि न केवल वर्तमान पीढ़ी की अपितु भावी पीढ़ियों की आवश्यकताएं भी पूरी होती रहें।

प्रश्न 2 – सही उत्तर पर निशान लगाइए :-

(i) निम्नलिखित में से कौन संसाधन को निर्धारित नहीं करता ?

(क) उपयोगिता

(ख) मूल्य

(ग) मात्रा

उत्तर :- (ग) मात्रा

(ii) निम्नलिखत में से कौन सा मानव निर्मित संसाधन है ?

(क) कैंसर उपचार की औषधियाँ

(ख) झरने का जल

(ग) उष्णकटिबंधीय वन

उत्तर :- (क) कैंसर उपचार की औषधियाँ

(iii) कथन पूरा कीजिए :-  

अनवीकरणीय संसाधन _____ होते है।

(क) सिमित भंडार वाले

(ख) मनुष्यों द्वारा निर्मित

(ग) निर्जीव वस्तुओं से व्युत्पन्न

उत्तर:- (क) जीव – जंतुओं से व्युत्पन्न

प्रश्न 3 – क्रियाकलाप –

“ रहिमन पानी राखिए बिनु पानी सब सून।

पानी गए न ऊबरे मोती, मानुस, चून …”

     ये पंक्तियाँ अकबर के दरबार के नौ रत्नों में से एक, कवि अब्दुर रहीम खानखाना द्वारा लिखी गई थीं। कवि किस प्रकार के संसाधन की ओर संकेत कर रहा है ? इस संसाधन के समाप्त हो जाने पर क्या होगा ? इसे 100 शब्दों में लिखिए।

उत्तर :- कवि इसमें जल के संसाधन की ओर संकेत कर रहा है। कवि इस दोहे में कहता है कि जिस तरह से पानी के बिना आटे का और चमक के बिना मोती का कोई महत्व नहीं रह जाता है, उसी तरह मनुष्य भी बिना विनम्रता के आभाहीन हो जाता है और उसके मूल्यों का पतन हो जाता है। कवि बताना चाहता हैं कि यदि जल हमारी पृथ्वी से समाप्त हो गया तो हमारी दशा कैसी हो सकती है। जल की एक-एक बून्द मूल्यवान है। हम जल के बिना जीवित नहीं रह सकते। जल खेती – बाड़ी, पीने के लिए, खाना बनाने के लिए, नहाने के लिए, वाहन तथा उद्योग में भी उपयोग में लाया जाता है। जल के बिना एक दिन भी हम नहीं निकाल सकते है। जल हमारे रोजमर्रा के काम से जुड़ा होता है। जल के बिना जीवन संभव नहीं है। जल के बिना खेती होना नामुमकिन है और बिना खेती हमारे लिए अनाज पैदा होना मुश्किल है। जल के बिना ना वाहन चलेंगे ना सफाई होगी। बिना सफाई बीमारी फ़ैल जाएगी। सार्थक शब्दों में जल ही जीवन है, जल नहीं तो हम भी नहीं।

आओ खेलें :-

प्रश्न 1 – सोचिए कि आप प्रागैतिहासिक काल में एक ऊँचे हवादार पठार पर रहते हैं। आप और आपके मित्र तेज पवनों का उपयोग कैसे करेंगे ? क्या आप पवन को एक संसाधन कह सकते हैं ? अब कल्पना कीजिए कि आप वर्ष 2138 में उसी स्थान पर रह रहे हैं। क्या आप पवनों का कोई उपयोग कर सकते हैं ? कैसे ? क्या आप बता सकते हैं कि अब पवन एक महत्त्वपूर्ण संसाधन क्यों है ?

उत्तर :- प्रागैतिहासिक काल में पवनो का हम उपयोग नहीं कर सकते थे। क्योंकि उस समय हमारे पास कौशल, शिक्षा की कमी थी। उस समय में हम पवन को संसाधन नहीं कह सकते लेकिन आज के समय में कह सकते है। आज के समय में पवनों का उपयोग हम बिजली उत्पादन, खाद्य उत्पादन और परिवहन में उपयोग करते है।

प्रश्न 2 – एक पत्थर, एक पत्ता, एक गत्ता और एक टहनी लीजिए। सोचिए कि आप इनका उपयोग संसाधन की भाँति किस प्रकार कर सकते हैं ? नीचे दिए उदाहरण को देखिए और रचना कीजिए।

उत्तर:-  

आप एक पत्ती का उपयोग कर सकते हैप्रयोग / उपयोगिता
पत्तीदवाई बनाने में, सजावट के लिए
पत्थरखेलने के लिए, मसालो को पीसने के लिए
गत्ताघर, खिलौने, गुलदस्ता
टहनीदातून करने, खेल खेलने, कलम बनाने
आओ कुछ करके सीखे:-

प्रश्न 1 – अपने घर और अपनी कक्षा में उपयोग किए जाने वाले किन्हीं पाँच संसाधनों की सूची बनाइए।

उत्तर :- घर :- पानी, कुर्सी, टीवी,  मेज, बिस्तर

कक्षा :- पेन, किताब, पानी, मेज, बैंच

प्रश्न 2 – कुछ नवीकरणीय संसाधनों के बारे में सोचिए और बताइए कि किस प्रकार संसाधनों का अधिक उपयोग उनके भंडार को प्रभावित करता है।

उत्तर :- नवीकरणीय संसाधन वे संसाधन हैं जो शीघ्रता से नवीकृत अथवा पुनः पूरित हो जाते हैं। इनमें से कुछ असीमित हैं और उन पर मानवीय क्रियाओं का प्रभाव नहीं होता, जैसे सौर और पवन ऊर्जा। लेकिन फिर भी कुछ नवीकरणीय संसाधनों, जैसे जल, मृदा और वन का लापरवाही से किया गया उपयोग उनके भंडार को प्रभावित कर सकता है।

कक्षा 8 भूगोल के सभी अध्यायों के एनसीईआरटी समाधान नीचे टेबल से देखें
अध्याय की संख्याअध्याय के नाम
अध्याय 1संसाधन
अध्याय 2भूमि, मृदा, जल, प्राकृतिक वनस्पति और वन्य जीवन संसाधन
अध्याय 3खनिज और शक्ति संसाधन
अध्याय 4कृषि
अध्याय 5उद्योग
अध्याय 6मानव संसाधन

छात्रों को कक्षा 8 सामाजिक विज्ञान भूगोल पाठ 1 संसाधन के प्रश्न उत्तर प्राप्त करके काफी खुशी हुई होगी। ncert solutions for class 8 sst in hindi medium में देने का उद्देश्य केवल छात्रों को बेहतर ज्ञान देना है। इसके अलावा आप एनसीईआरटी के पेज से सभी विषयों के एनसीईआरटी समाधान (NCERT Solutions in hindi) और हिंदी में एनसीईआरटी की पुस्तकें (NCERT Books In Hindi) भी प्राप्त कर सकते हैं। हम आशा करते है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

कक्षा 8 के इतिहास और नागरिक शास्त्र के एनसीईआरटी समाधानयहां से देखें

Leave a Reply