एनसीईआरटी समाधान कक्षा 8 विज्ञान पाठ 6 दहन और ज्वाला

Photo of author
PP Team

छात्र इस आर्टिकल के माध्यम से एनसीईआरटी समाधान कक्षा 8 विज्ञान पाठ 6 दहन और ज्वाला प्राप्त कर सकते हैं। छात्रों के लिए कक्षा 8 विज्ञान के प्रश्न उत्तर पूरी तरह से मुफ्त है। छात्र विज्ञान कक्षा 8 पाठ 6 प्रश्न उत्तर से परीक्षा की तैयारी अच्छे से कर सकते हैं। साथ ही छात्र परीक्षा में अच्छे अंक भी प्राप्त कर सकते हैं। कक्षा 8 विज्ञान के लिए एनसीईआरटी समाधान छात्रों की सहायता के लिए बनाए गए है। class 8th science chapter 6 hindi medium के प्रश्न उत्तर साधारण भाषा में बनाए गए हैं। class 8th science chapter 6 question answer नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

Ncert Solutions Class 8 Science Chapter 6 in Hindi Medium

class 8 science hindi medium chapter 6 दहन और ज्वाला के प्रश्न उत्तर को सीबीएसई सिलेबस को ध्यान में रखकर बनाया गया है। हमने छात्रों के लिए विज्ञान कक्षा 8 पाठ 6 प्रश्न उत्तर को राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की सहायता से बनाया है। हमने देखा है कि छात्र 8th class vigyan question answer के लिए बाजार में मिलने वाली गाइड पर काफी पैसा खर्च कर देते हैं। लेकिन यहां से kaksha 8 vishay vigyan question answer पूरी तरह से ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

कक्षा : 8
विषय : विज्ञान
पाठ : 6 दहन और ज्वाला

अभ्यास

प्रश्न 1 – दहन की परिस्थितियों की सूची बनाइए।

उत्तर :- रासायनिक प्रक्रम जिसमे पदार्थ ऑक्सीजन से अभिक्रिया कर ऊष्मा देता है, दहन कहलाता है। जिस पदार्थ का दहन होता है, दाह्या कहलाता है। कभी-2 दहन के समय ज्वाला के रूप में अथवा लपट के रूप में प्रकाश उत्पन्न होता है।

प्रश्न 2 – रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए :-

(क) लकड़ी और कोयला जलने से वायु का ___  होता है।

(ख) घरों में काम आने वाला एक द्रव ईंधन ___ है।

(ग) जलना प्रारम्भ होने से पहले ईंधन को उसके ___ तक गर्म करना आवश्यक है।

(घ) तेल द्वारा उत्पन्न आग को ___ द्वारा नियंत्रित नहीं किया जा सकता।

उत्तर:-

(क) लकड़ी और कोयला जलने से वायु का प्रदूषण होता है।

(ख) घरों में काम आने वाला एक द्रव ईंधन मिट्टी का तेल है।

(ग) जलना प्रारम्भ होने से पहले ईंधन को उसके ज्वलन ताप तक गर्म करना आवश्यक है।

(घ) तेल द्वारा उत्पन्न आग को पानी द्वारा नियंत्रित नहीं किया जा सकता।

प्रश्न 3 – समझाइए कि मोटर वाहनों में सीएनजी के उपयोग से हमारे शहरों का प्रदूषण किस प्रकार कम हुआ है ?

उत्तर :- क्योंकि सीएनजी सल्फर और नाइट्रोजन के ऑक्साइडों का उत्पादन अल्प मात्रा में करती है। सीएनजी एक अधिक स्वच्छ इंधन है जो किसी प्रकार की कोई हानिकारक गैस उत्पन्न नहीं करता।

प्रश्न 4 – ईंधन के रूप से एलपीजी और लकड़ी की तुलना कीजिए।

उत्तर :- एलपीजी को सिलेंडर में आसानी से भंडारित कर सकते है जबकि इसका भंडारण सुविधाजनक नहीं है। इसका ऊष्मीय मान 55,000 KJ है जबकि लकड़ी का ऊष्मीय मान 22000 KJ है। यह गैस वायु प्रदूषित नहीं करती जबकि लकड़ी निश्चित रूप से वायु प्रदूषित का कारण बनती है।

प्रश्न 5 – कारण बताइए-

(क) विद्युत उपकरण से संबद्ध आग पर नियंत्रण पाने हेतु जल का उपयोग नहीं किया जाता।

उत्तर :- विद्युत उपकरण से संबद्ध आग पर नियंत्रण पाने हेतु जल का उपयोग नहीं कर सकते, क्योंकि जल विद्युत का चालन कर सकता है तथा आग बुझाने वालों को हानि हो सकती है। इससे जान जाने तक का खतरा हो सकता है।

(ख) एलपीजी लकड़ी से अच्छा घरेलू ईंधन है।

उत्तर :- एलपीजी को सिलेंडर में आसानी से भंडारित कर सकते हैं जबकि इसका भंडारण सुविधाजनक नहीं है। इसका ऊष्मीय मान 55,000 KJ है जबकि लकड़ी का ऊष्मीय मान 22000 KJ है। यह गैस वायु प्रदूषित नहीं करती जबकि लकड़ी निश्चित रूप से वायु प्रदूषित का कारण बनती है।

(प्रश्न – 4 की तरह)

(ग) कागज़ स्वयं सरलता से आग पकड़ लेता है जबकि ऐलुमिनियम पाइप के चारों ओर लपेटा गया कागज़ का टुकड़ा आग नहीं पकड़ता।

उत्तर :- कागज के कम प्रज्वलन तापमान के कारण कागज अपने आप सरलता से आग पकड़ लेता है। जब कागज को एक ऐलुमिनियम पाइप के चारों ओर लपेटा जाता है तो प्रज्वलन तापमान तक पहुचने से पहले गर्मी के कुछ हिस्से को पाइप में स्थानांतरित कर देता है इसलिए कागज़ का टुकड़ा आग नहीं पकड़ पाता।

प्रश्न 6 – मोमबत्ती की ज्वाला का चिह्नित चित्र बनाइए।


उत्तर:-

प्रश्न 7 – ईंधन के ऊष्मीय मान को किस मात्रक द्वारा प्रदर्शित किया जाता है ?

उत्तर :- ईंधन के ऊष्मीय मान को किलोजूल प्रति किलोग्राम मापक द्वारा प्रदर्शित किया जाता है।

प्रश्न 8 – समझाइए कि CO2 किस प्रकार आग को नियंत्रित करती है ?

उत्तर :- विद्युत उपकरण और पेट्रोल जैसे ज्वलनशील पदार्थों में लगी आग के लिए कार्बन डाइऑक्साइड सबसे अच्छा अग्निशामक है। ऑक्सीजन से भारी होने के कारण CO2 आग को एक कम्बल की तरह लपेट लेती है। इससे ईधन और ऑक्सीजन के बीच सम्पर्क टूट जाता है। अतः आग पर नियंत्रण हो जाता है। CO2 का एक अतिरिक्त लाभ यह है कि सामान्यत: यह विद्युत उपकरणों को हानि नही पहुँचाती।

प्रश्न 9 – हरी पत्तियों के ढेर को जलाना कठिन होता है परन्तु सूखी पत्तियों में आग आसानी से लग जाती है, समझाइए।

उत्तर :- हरी पत्तियों के ढेर को जलाना कठिन होता है परन्तु सूखी पत्तियों में आग आसानी से लग जाती है, क्योंकि हरी पत्तियों में नमी की मात्रा बहुत अधिक होती है और हरी पत्तियों के ढेर में ऑक्सीजन की मात्रा कम होती है। परन्तु सुखी पत्तियों में नमी की मात्रा कम होती है और सूखी पत्तियों के ढेर में ऑक्सीजन की मात्रा अधिक होती है।

प्रश्न 10 – सोने और चाँदी को पिघलाने के लिए स्वर्णकार ज्वाला के किस क्षेत्र का उपयोग करते हैं और क्यों ?

उत्तर :- स्वर्णकार ज्वाला के सबसे ऊपरी क्षेत्र का उपयोग सोने और चांदी को पिघलाने के लिए करते है क्योंकि यह ज्वाला का सबसे अधिक गर्म क्षेत्र होता है।

प्रश्न 11 – एक प्रयोग में 4.5 kg ईंधन का पूर्णतया दहन किया गया। उत्पन्न ऊष्मा का माप 180,000 kJ था। ईंधन का ऊष्मीय मान परिकलित कीजिए।

उत्तर :- इंधन का द्रव्यमान  = 4.5 kg

     उत्पन्न ऊष्मा का माप = 1,80,000 kj

            अब इंधन का ऊष्मीय मान =  उत्पन्न ऊष्मा का मान/द्रव्यमान

                                                             = 1,80,000kj/ 4.5kg

                                                             = 40,000kj/kg

प्रश्न 12 – क्या जंग लगने के प्रक्रम को दहन कहा जा सकता है ? विवेचना कीजिए।

उत्तर :- नहीं, जंग लगने के प्रक्रम को हम दहन नहीं कह सकते हैं क्योंकि जब लोहे को नमी युक्त वायु में रखा जाता है, तो यह जलीय आयरन ऑक्साइड की परत से ढक जाता है। यह प्रक्रम जंग लगना कहलाता है और परत को जंग कहते है। रासायनिक जंग, आयरन ऑक्साइड का जलीय रूप है अर्थात् Fe2O3, xH2O  यह भूरे लाल रंग का होता है। जंग लगना एक ऑक्सीजन अभिक्रिया है, परन्तु धीमी गति से होने वाली अभिक्रिया है।

                 Fe2O3 + xH2O  à Fe2O3.xH2O

प्रश्न 13 – आबिदा और रमेश ने एक प्रयोग किया जिसमें बीकर में रखे जल को गर्म किया गया। आबिदा ने बीकर को मोमबत्ती ज्वाला के पीले भाग के पास रखा। रमेश ने बीकर को ज्वाला के सबसे बाहरी भाग के पास रखा। किसका पानी कम समय में गर्म हो जाएगा ?

उत्तर :- ज्वाला का बाहरी भाग गर्म होने के कारण रमेश का पानी कम समय में गर्म हो जाएगा।

कक्षा 8 विज्ञान के सभी अध्यायों के एनसीईआरटी समाधान नीचे देखें

अध्यायविषय के नाम
1फसल उत्पादन एवं प्रबंध
2सूक्ष्मजीव : मित्र एवं शत्रु
3संश्लेषित रेशे और प्लास्टिक
4पदार्थ : धातु और अधातु
5कोयला और पेट्रोलियम
6दहन और ज्वाला
7पौधे एवं जंतुओं का संरक्षण
8कोशिका – संरचना एवं प्रकार्य
9जंतुओं में जनन
10किशोरावस्था की ओर
11बल तथा दाब
12घर्षण
13ध्वनि
14विद्युत धारा के रासायनिक प्रभाव
15कुछ प्राकृतिक परिघटनाएँ
16प्रकाश
17तारे एवं सौर परिवार
18वायु तथा जल का प्रदूषण

कक्षा 8 विज्ञान पाठ 6 दहन और ज्वाला के प्रश्न उत्तर प्राप्त करके आपको कैसा लगा ?, आप अपने सुझाव हमें कमेंट के माध्यम से जरूर दीजिए। हमारा ncert solutions for class 8 science in hindi medium देने का उद्देश्य केवल बेहतर ज्ञान देना है। इसके अलावा आप हमारे वेबसाइट के माध्यम से अन्य विषयों की एनसीईआरटी की पुस्तकें और एनसीईआरटी समाधान भी प्राप्त कर सकते हैं। हम आशा करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा।

कक्षा 8 विज्ञान के मुख्य पेज के लिएयहां से क्लिक करें

Leave a Reply